Uttarakhand News

उत्तराखंड रोडवेज के अधिकारियों की बड़ी लापरवाही, केवल 12 घंटे में ही हो गया लाखों का नुकसान



हल्द्वानी: उत्तराखंड रोडवेज की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं चल रही है। इसके बाद भी लगातार लापरवाही के मामले सामने आते हैं। फार्स्ट टैग में भुगतान शेष न होने से मंगलवार की रात 11 से बुधवार की सवेरे 11.30 बजे तक काम करना बंद कर दिया। 11.30 बजे के बाद फार्स्ट टैग के काम करने के बाद आला अधिकारियों ने राहत की सांस ली।

Ad

इस लापरवाही से परिवहन निगम के हर टोल प्लाजा में भुगतान नगद राशि डबल दी गई। कुमाऊँ मंडल को ही लाखों रुपये का नुकसान हुआ है, जिससे विभिन्न संगठनो के कर्मचारी नेताओ ने इसकी भरपाई आखिर किस से पूरी की जायेगी। इसमें दोषी अधिकारियों के कार्यवाही की मांग की गई है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में और बढ़ गई कंटेनमेंट जोन की संख्या...कल रहेगी पूर्ण बंदी

फार्स्ट टैग के रिचार्ज न होने से टोल प्लाजा में कई बसें जाम में फंस गई जिससे चालक-परिचालक को परेशानी का सामना करना पड़ा। ज्ञात रहे इस इन मार्गो में फार्स्ट टैग के रिचार्ज न होने से कुमाऊँ मंडल की 100 से ज्यादा बसों को नगद डबल भुकतान देना पड़ा जिससे विभाग को लाखों की क्षति का अनुमान है। दिल्ली/गुड़गांव/फरीदाबाद/जयपुर की डबल राशि जिसका नगद भुकतान किया गया। हालांकि अधिकारियों ने इसे तकनीकी खामी बताया है। उनका कहना है कि रोडवेज को जो नुकसान हुआ है उसकी वसूली संबंधित कंपनी से की जाएगी।

  1. 810–दलपतपुर
  2. 180 रामपुर-बिलासपुर
  3. जोया–260
  4. ब्रजघाट–390
  5. पिलखुवा–880
  6. गुड़गांव–410
  7. शाहजहांपुर–970
  8. मनोहरपुर–230,
यह भी पढ़ें 👉  कुमाऊं विश्वविद्यालय में नौकरी,वॉक इन इंटरव्यू के जरिए होगी भर्तियां, तुरंत जानें

पंजाब की बसो का टोल
580–बहादुराबाद,130–भगवानपुर,280–छुटमलपुर–280,सरसावां–740,

लखनऊ में पड़ने वाला टोल
310–इटोजा,310–सीतापुर

हरिद्वार-देहरादून मार्ग का टोल
नगीना–490, डोईवाला–590

To Top