Nainital-Haldwani News

पर्यटक ध्यान दें, नैनीताल में होटल स्टे को छोड़कर सब महंगा हो गया है, देखिए लिस्ट


पर्यटक ध्यान दें, नैनीताल में होटल स्टे को छोड़कर सब महंगा हो गया है, देखिए लिस्ट

नैनीताल: अगर आप नैनीताल आने का प्लान बना रहे हैं तो ध्यान रखें कि अब सरोवर नगरी पहले की तरह सस्ती नहीं रही। डीजल पेट्रोल से लेकर हर तरफ महंगाई के कारण नैनीताल में हर चीज के रेट बढ़ गए हैं। होटलों को छोड़ दें तो रोपवे सवारी से लेकर झील दर्शन, सभी के रेट बढ़ गए हैं।

दरअसल बीते कुछ समय में महंगाई ने छलांग तो लगाई है। पेट्रोल डीजल के दामों में बढ़ोतरी हुई है तो रसोई गैस के दाम भी बढ़े हैं। कोरोना काल के कारण पर्यटन व्यापार से जुड़े लोगों को खासा नुकसान भी हुआ है। हालांकि अब पर्यटन गतिविधियों का संचालन शुरू हो गया है। मगर पहले हुए नुकसान से उबरने में हर किसी को थोड़ा समय तो जरूर लगेगा।

यह भी पढ़ें 👉  अच्छी खबर है...दिल्ली से उत्तराखंड के तीन शहरों के लिए चलेंगी AC बसें

खैर, अब महंगाई बढ़ने के कारण नैनीताल की सैर भी महंगी हो चली है। खाना पीना, रोपवे की सवारी में होने वाले खर्चे में 20 से 30 प्रतिशत की बढ़ोतरी हो गई है। नैनीताल दर्शन को ले जाने वाली टैक्सियां भी 300 से 400 रुपए तक महंगी हो गई हैं। झील में घूमना भी खर्चीला ज्यादा हो गया है। पूरा पैकेज 4000 रुपए तक पहुंच गया है।

कुछ समय पहले तक की बात करें तो नैनीताल दर्शन को यही कोई 1200 से 1400 रुपए लगते थे। मगर पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के चलते संचालक 1800 से 2200 रुपये तक भी वसूल रहे हैं। छोटी गाड़ी 1200 से 1800 तक की पड़ रही है। इसी कड़ी में अब कुमाऊं मंडल विकास निगम ने नैनीताल से स्नो व्यू तक रोप-वे का किराया 230 से बढ़ाकर 300 रुपये प्रति व्यक्ति कर दिया है।

यह भी पढ़ें 👉  दहेज में बुलेट और कार नहीं मिली तो शादी के दूसरे ही दिन पति ने पत्नी को दिया तलाक, किच्छा का मामला

केव गार्डन में घूमने के लिए भी अब 60 की जगह 100 रुपए शुल्क कर दिया गया है। रोपवे की सवारी के लिए जहां पहले 230 रुपए देने पड़ते थे वहीं अब 300 रुपए देने पड़ रहे हैं। रेस्तरां संचालकों की मानें तो गैस, पेट्रोल, डीजल के साथ सब्जियां, खाद्य तेल से लेकर हर चीज महंगी है। ऐसे में दाम बढ़ाना मजबूरी है। 

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड के अगले साल के कैलेंडर में शामिल नहीं की गई इगास पर्व की छुट्टी

नैनीताल टूर एंड टैक्सी एसोसिएशन के अध्यक्ष नीरज जोशी का मानना भी यही है। उन्होंने कहा कि पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि के चलते सफर 40% तक महंगा हो गया है। हम भी दाम बढ़ाने को मजबूर हैं। बहरहाल पर्यटकों के लिए राहत की बात ये है कि नैनीताल के होटलों में कमरों के किराए में 2019 के बाद से इजाफा नहीं हुआ है। 

Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School
Ad
Ad

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top