Uttarakhand News

धामी कैबिनेट बैठक खत्म, इन फैसलों में लगी मोहर

देहरादून : धामी कैबिनेट की बैठक खत्म हो गई है। कैबिनेट ने कई फैसले लिए हैं।

विधायक निधि को बढाकर 5 करोड़ कर दिया गया।

महिला मंगल दलों को दी जाने वाली राशि 25 लाख से बढाकर 40 लाख की गई।

मंदिरो के सौन्दर्य करण के लिए सालाना 25 लाख मिलते थे अब 50 लाख मिलेंगे।

उत्तराखंड के बजट के पहले सीएम पुष्कर सिंह धामी की अगुवाई वाली कैबिनेट बैठक में विधायकों को यह तोहफा मिला है।

उत्तराखंड के विधायक निधि की राशि पहले 3.75 करोड़ रुपये थी जिसे बढ़ाकर अब पांच करोड़ कर दिया गया है।

अब विधायक इस निधि राशि से अपनी विधानसभा में अधिक विकास कार्य करा पाएंगे।

बता दें कि काफी समय से उत्तराखंड के विधायक निधि को बढ़ाने की मांग कर रहे थे।

उत्तराखंड में लंबे समय से राज्य आंदोलनकारियों को क्षैतिज आरक्षण दिए जाने को लेकर की मांग चल रही थी। पूर्व में नैनीताल हाईकोर्ट ने वर्ष 2011 में उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारियों को 10 प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण पर रोक लगा दी थी। जिसके बाद से राज्य आंदोलनकारियों को क्षैतिज आरक्षण दिये जाने का यह विधेयक वर्ष 2016 से राजभवन में लंबित था।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इस बाबत अपने स्तर से स्वयं राजभवन से अनुरोध किया। उनके अनुरोध पर 7 साल बाद पिछले साल राजभवन ने इसे लौटा दिया था। इधर धामी सरकार ने विधेयक की ख़ामियों को दूर करते हुए नए सिरे से प्रस्ताव तैयार किया। आंदोलनकारियों की माँग को लेकर सीएम धामी ने बड़ा मन दिखाते हुए प्राथमिकता के आधार पर इस प्रस्ताव को कैबिनेट से मंज़ूरी दे दी।

To Top
Ad