Life Style

बरसात के मौसम में होने वाली बीमारियों का होम्योपैथिक इलाज, डॉक्टर यश पांडे की टिप्स

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

हल्द्वानी: बरसात में हर व्यक्ति को अपने स्वास्थ्य का विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए। इस मौसम में मलेरिया, पेट संबंधी विकार, डायरिया, चिकनगुनिया, डेंगू, पीलिया, पेचिस आदि तमाम बीमारियां फैलने लगती हैं। जरा भी लापरवाही बरती गयी तो लक्षण गंभीर हो सकते हैं। साहस होम्यो क्लीनिक के फिजीशियन डॉ. यश पाण्डेय ने आम जनता से अपेक्षा की है कि वे बाजार में खुले में रखे खाद्य पदार्थों का सेवन कतई न करें। आगे पढ़ें…

पानी उबाल कर ही पीएं, जंक फूड की ओर झांकें भी नहीं, क्योंकि खुले में होने के कारण इनमें विषाणु पनपते हैं। डा. यश पाण्डेय के मुताबिक बरसाती बीमारियों की रोकथाम में होम्योपैथिक दवाइयां कारगर साबित होती हैं, जो प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ाती हैं और रोगी को जल्दी स्वस्थ होने में मदद मिलती है। उनका यह भी कहना है कि समय पर होम्योपैथिक दवाइयों का सेवन नहीं किया तो रोगी को फिर एलोपैथी की मदद लेनी पडती है। आगे पढ़ें…

उल्टी-दस्त ज्यादा होने पर शरीर में पानी की कमी हो जाती है और ड्रिप चढ़ाना भी आवश्यक हो जाता है। डा. यश पाण्डेय ने राय दी है कि बीमारी शुरू होते ही होम्यापैथिक दवा ली जाए तो कुछ घंटों बाद ही रोगी को आराम मिलने लगता है। उन्होंने बरसात के मौसम में सभी से अपने और अपने परिवार का ख्याल रखने की अपील की है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी मैक्सफेस क्लीनिक:अब डेंटल और एस्थेटिक्स ट्रीटमेंट के लिए महानगर जाने की जरूरत नहीं
To Top