Almora News

IRS श्रद्धा जोशी नैनीताल की डिप्टी कलेक्टर रही हैं, पति IPS मनोज शर्मा पर बनी 12वीं फेल फिल्म

IRS Shraddha Joshi story:- पहाड़ी राज्य उत्तराखंड जितना अपनी सुन्दरता के लिए जाना जाता है, उतना ही यहां के मेहनतकश लोगों के कारण, यह अपनी उद्यमिता के लिए भी मशहूर है। राज्य के कई ऐसे युवा हैं, जो आज विभिन्न क्षेत्रों में अच्छे पदों पर अपनी सेवाएं दे रहे हैं। उत्तराखंड के ऐसे ही जिले नैनीताल से एक और कहानी सामने आती है, जहां पहाड़ की बेटी ने अपनी मेहनत के दम पर कई मुकाम हासिल किए हैं। ये कहानी है, भारतीय राजस्व सेवा अधिकारी, श्रद्धा जोशी की। 45 वर्षीय श्रद्धा जोशी, 2007 बैच की भारतीय राजस्व सेवा अधिकारी है। वे सफल आईपीएस अधिकारी मनोज कुमार शर्मा की पत्नी भी हैं।

“12th फेल” फिल्म से मशहूर हुए, आईपीएस अधिकारी मनोज शर्मा से तो हम सभी वाकिफ हैं। परंतु उनकी पत्नी श्रद्धा जोशी शर्मा की कहानी भी किसी प्रेरणा से कम नहीं है। प्रतिष्ठित भारतीय राजस्व सेवा (आईआरएस) में अपना कर्तव्य निभा रही श्रद्धा की सफलता की कहानी प्रतिबद्धता और स्नेह का एक उच्चतम उदाहरण है।

श्रद्धा जोशी शर्मा का जन्म 5 मार्च 1979 को पहाड़ी राज्य, उत्तराखंड के अल्मोड़ा शहर में हुआ था। उन्होंने अपनी शुरुआती शिक्षा अल्मोड़ा जिले से ही की है। अपनी प्रारंभिक शिक्षा उत्तर प्रदेश बोर्ड से करते हुए, 12वीं कक्षा की परीक्षा में उन्होंने क्षेत्र में 13वां स्थान प्राप्त किया था। इस के बाद उन्होंने हरिद्वार के गुरुकुल कांगड़ी में आयुर्वेदिक चिकित्सा और सर्जरी का अध्ययन करते हुए अपनी शिक्षा जारी रखी। अपनी शिक्षा पूरी करने के बाद श्रद्धा जोशी उत्तराखंड के एक अस्पताल में डॉक्टर के रूप में कार्यरत रहीं।

अस्पताल में कार्यरत रहते हुए श्रद्धा के जीवन में सब से बड़ा मोड़ आया, जहां से सिविल सेवाओं की तरफ उनका रुझान बड़ा। दरअसल, अस्पताल में काम करते वक्त श्रद्धा के सामने घरेलू हिंसा का एक केस आया था, जिसमें पीड़िता को न्याय नहीं मिल सका। इस हादसे ने श्रद्धा को काफी प्रभावित किया, और उन्होंने सिविल सेवाओं में जाने का मन बना लिया। अपनी तैयारी हेतु श्रद्धा उत्तराखंड से दिल्ली आ गई, और यहां दृष्टि आईएएस के अंतर्गत उन्होंने अपनी कोचिंग जारी रखी। इस दौरान श्रद्धा जोशी की मुलाकात मनोज शर्मा से हुई। मनोज उस वक्त अपने जीवन के सबसे चुनौतीपूर्ण पढ़ाव में थे। श्रद्धा ने उनका पूरा साथ निभाया और कोचिंग में भी उनकी सहायता की। श्रद्धा जोशी की अपने पति, 2005 बैच के आईपीएस अधिकारी, मनोज कुमार शर्मा के साथ एक अविश्वसनीय प्रेम कहानी है, जिसे हालिया फिल्म 12th फेल में काफ़ी खूबसूरती से दर्शाया गया है। इस जोड़े ने 5 दिसंबर 2005 को शादी कर ली थी।

इस ही साल 2005 में श्रद्धा जोशी ने पीसीएस की परीक्षा भी उत्तीर्ण की थी और अपनी पहली सेवा नैनीताल में डिप्टी कलेक्टर के पद पर नियुक्त होकर प्रदान की। साल 2007 में उन्होंने यूपीएससी की सिविल सेवा परीक्षा में भाग लिया और ऑल इंडिया रैंक 121 हासिल की। इसके बाद वे भारतीय राजस्व सेवा आईआरएस के 2007 बैच की सदस्य बनी। उनका 16 साल से अधिक का विशिष्ट करियर रहा है।

सिविल सेवाओं की तैयारी कर रहे हजारों युवाओं की कहानी जो केवल एक प्रेरणा का स्रोत होती हैं, वहीं श्रद्धा जोशी की कहानी प्रेरणा ही नहीं, बल्कि सच्चाई, ईमानदारी और वफादारी की भी मिसाल है।

To Top
Ad