Pauri News

उत्तराखंड से चलने वाली दो ट्रेनों का संचालन पूरी तरह से बंद


Ad
Ad

देहरादून: गढ़वाल मंडल से रेल यात्रा करने वाले लोगों के लिए एक और बड़ी खबर सामने आई है। दिल्ली से कोटद्वार के लिए चलने वाली गढ़वाल एक्सप्रेस के बंद होने के बाद मसूरी एक्सप्रेस के पहियो पर भी ब्रेक लग गए है। रेल मुख्यालय से जारी समय सारणी में इस बार मसूरी एक्सप्रेस के समय का जिक्र नहीं किया गया है। नवंबर 2019 से कोटद्वार रेलवे स्टेशन से मसूरी एक्सप्रेस की बोगियां नहीं चल रही थी। पूर्व में कोटद्वार से नजीबाबाद की ओर जाने वाली पैसेंजर ट्रेन पर मसूरी एक्सप्रेस की बोगियां लगती थी। 

Ad
Ad

बता दें कि कोरोना संक्रमण के कारण लगे लॉकडाउन की वजह से रेल मुख्यालय ने 22 मार्च 2020 से गढ़वाल एक्सप्रेस का संचालन बंद करने का फैसला किया था। दिल्ली जाने वाले लोगों की मांग को देखते हुए तीन मार्च से रेल मुख्यालय ने कोटद्वार-दिल्ली के मध्य सिद्धबली जनशताब्दी एक्सप्रेस का संचालन शुरू किया। यह ट्रेन गढ़वाल एक्सप्रेस के वक्त पर ही चलती थी और नतीजा रहा कि कुछ दिन पहले रेलवे ने गढ़वाल एक्सप्रेस को रद्द करने का फैसला किया।

बात मसूरी एक्सप्रेस की करें तो कोटद्वार रेलवे स्टेशन से नजीबाबाद-कोटद्वार पैसैंजर ट्रेन रात 10 बजे मसूरी एक्सप्रेस की करीब 5 बोगियों को लेकर निकलती थी। इन बोगियों को नजीबाबाद मसूरी एक्सप्रेस से जोड़ा जाता था। इन दोनों ट्रेनों के बंद होने के बाद यात्रियों के पास केवल सिद्धबली जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन का विकल्प है। अगर उन्हें ये ट्रेन नहीं मिलती है तो उन्हें बस और टैक्सी से दिल्ली तक का सफर तय करना पड़ेगा।

सिद्धबली जनशताब्दी एक्सप्रेस रोज सुबह 7 बजे दिल्ली से चलकर अपराह्न 1:40 बजे कोटद्वार पहुंचती है। वापसी दिशा में यह कोटद्वार से अपराह्न 3:20 बजे चलकर 9:50 बजे दिल्ली पहुंचती है। यह ट्रेन नजीबाबाद, मौजमपुर, बिजनौर, हल्दौर, चांदपुर, मंडी धनौरा, गजरौला, हापुड़, गाजियाबाद स्टेशनों पर रुकती है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top