Uttarakhand News

रक्षाबंधन पर आंगनबाड़ी और आशा कार्यकत्रि बहनों को CM पुष्कर दा ने दिया तोहफा


देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रक्षाबंधन के अवसर पर प्रत्येक आंगनबाङी और आशा कार्यकत्रि को एक-एक हजार रूपये की अतिरिक्त सम्मान राशि उपलब्ध कराने के निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि आंगनबाड़ी और आशा कार्यकत्रि बहनों को ये एक छोटा सा उपहार है। आंगनवाड़ी और आशा कार्यकत्रि बहनों का राज्य के विकास में बहुत महत्वपूर्ण योगदान रहा है। विशेष रूप से कोविड से लड़ाई में उनकी बहुत बड़ी भूमिका रही है। राज्य सरकार इनके कार्यों का सम्मान करती है।  

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री आवास में ट्राइफेड द्वारा आयोजित रक्षा बंधन कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। इस अवसर पर महिलाओं ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की कलाई पर रक्षा सूत्र बांधकर उनको रक्षाबंधन पर्व की शुभकामनाएं दी। उन्होंने सभी को रक्षाबंधन की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि राखी का पर्व भाई – बहन के पवित्र रिश्ते का प्रतीक है। त्योहार आपसी भाईचारे के साथ ही हमारे जीवन में उमंग और उत्साह का संचार करते हैं। त्योहार हमारी सांस्कृतिक पहचान होते हैं।  प्राचीन संस्कृति को बनाए रखने में त्योहारों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में कोरोना वायरस की नई SOP जारी, शादी समारोह के लिए बनाए गए नियम

रक्षाबंधन पर सभी लोकल रूट पर व बाहरी प्रदेशों से आ रहे यात्रियों के लिए रोडवेज ने तैयारी कर ली है। यात्रियों की संख्या बढ़ने पर बसों की संख्या के साथ ही फेरे बढ़ाए जाने का निर्णय लिया गया है। पर्वतीय जिलों के लिए भी जाने वाली बसों पर पूरा ध्यान रखा जाएगा। ताकि कोई भी यात्री त्योहार के दिन रोडवेज बस स्टेशन पर भटकता न मिले।

यह भी पढ़ें 👉  शिक्षा विभाग ने अगले आदेश तक उत्तराखंड में बंद किए सभी स्कूल,कोरोना का खतरा बढ़ रहा है

ऊधमसिंह नगर जिले में टनकपुर, हल्द्वानी, काशीपुर, खटीमा, सितारगंज क्षेत्र के निवासी प्रमुख हैं। बड़ी संख्या में वापस अपने घर लौट रहे यात्रियों को आवागमन में बसों की कमी न रहे। रोडवेज ने बसों के फेरे बढ़ाने का फैसला किया है। इस बारे में एआरएम राकेश कुमार ने बताया कि इन दिनों लोकल रूट पर कम से कम 30 बसों का संचालन हो रहा है। यात्रियों की संख्या बढ़ने पर पांच-पांच बसें व फेरे बढ़ा देंगे। बरेली व लखनऊ के साथ ही आगरा के लिए भी बस का संचालन बेहतर किया जाएगा। बड़ी संख्या में यहां के लिए भी रुद्रपुर से यात्री मिलते हैं।

To Top