Ad
Udham Singh Nagar News

गजब: उत्तराखंड पुलिस ने बाइक सीज की तो बिजली विभाग के कर्मी ने थाने की बिजली काट दी

गजब: उत्तराखंड पुलिस ने बाइक सीज की तो बिजली विभाग के कर्मी ने थाने की बिजली काट दी
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

खटीमा: लो जी, यहां तो बिजली विभाग के कर्मचारी और पुलिस में ही ठन गई है। दरअसल पहले पुलिस ने कर्मचारी की बाइक सीज कर ली। जिसके बाद कर्मचारी ने पुलिस थाने की बिजली ही काट दी। मामले ने गंभीर रूप ले लिया है। चार नामजद समेत एक अज्ञात संविदा कर्मी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

हुआ ये कि जिला ऊधमसिंह नगर अंतर्गत मेलाघाट थाने को तहरीर मिली जो कि मेलाघाट निवासी और लोहियाहेड बिजलीघर में कार्यरत लाइनमैन हरेंद्र सिंह ने दी थी। तहरीर में बताया कि बीती दो सितंबर को झनकईया थाने से थाने समेत आसपास के क्षेत्र में बिजली गुल होने के लिए फोन आया था।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड के पर्वतीय जिले मांगे यूनिफॉर्म सिविल कोड, सुझाव मांगने के काम ने पकड़ी रफ्तार

इस मामले में लाइन चेकिंग की गई तो बड़ा ही अजीब मामला देखने को मिला। दरअसल थाने के पास वाले ट्रांसफार्मर के तीनों फ्यूज के तार हटे हुए मिले। एलटी लाइन को देख कर भी पता लगा कि इसे शॉर्ट सर्किट कर बाधित किया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  मौसम विभाग ने तीन घंटे का अलर्ट जारी किया, यहां रात को ओलावृष्टि हो सकती है

बताया कि फ्यूज जोड़ने की स्थिति में एलटी लाइन में स्पार्किंग हो जाती, जिससे धमाका हो सकता था। दरअसल इस काम को मुडेली निवासी जयप्रकाश ने एक अन्य व्यक्ति के साथ अंजाम दिया था। बताया गया कि ठीक उसी दिन जिस दिन बिजली गुल हुई, मुडेली निवासी संविदा लाइनमैन राकेश गौतम की बाइक भी झनकईया थाने में सीज की गई थी।

जानकारी के अनुसार बाइक सीज होने पर बदले की भावना से ट्रांसफार्मर के साथ छेड़छाड़ कर बिजली गुल की गई थी। इसमें राकेश व उसके साथी जीतू राणा, चंद्रशेखर भट्ट और जयप्रकाश राणा के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है। थानाध्यक्ष दिनेश फत्र्याल ने बताया कि इनके अलावा एक अज्ञात के खिलाफ धारा आइपीसी 336 एवं विद्युत अधिनियम की धारा 140 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Join-WhatsApp-Group
To Top