Auto Tech

होम्योपैथिक दवा है कारगर, युवा डॉक्टर यश पांडे ने दी अहम टिप्स


Ad
Ad

हल्द्वानी: पिछले कुछ वक्त में लोगों का विश्वास होम्योपैथी इलाज की तरफ बढ़ा है क्योंकि होम्योपैथिक दवाइयां साइड इफेक्ट नहीं करती हालांकि कई लोगों का मानना है कि होम्योपैथिक इलाज देरी से बीमारी को भगाता है।

Ad
Ad

हल्द्वानी साहस होम्योपैथिक क्लीनिक में सेवा दे रहे युवा डॉक्टर यश पांडे का मानना है कि अगर मरीज वक्त रहते होम्योपैथिक इलाज लें तो समस्या से निजात जल्द मिल सकता है। उन्होंने बताया कि अधिकतर मरीज पुरानी बीमारियों को लेकर उनके पास पहुंचते हैं और इस वजह से बीमारी को दूर करने में वक्त लगता है। उन्होंने बताया कि होम्योपैथी दवाओं से भी गंभीर बीमारियों में भी तेज गति से काम करती है और बीमारी को मुंह से ही समाप्त करती है।

डॉ यश पांडे ने नैनीताल से शिक्षा हासिल की। उसके बाद उन्होंने जयपुर होम्यो विश्वविद्यालय से होम्योपैथिक की पढ़ाई की वह राजस्थान में डॉक्टर दिनेश चंद्र पांडे के अधीन अभ्यास कर रहे थे। इसके अलावा कुछ वक्त तक उन्होंने जयपुर में ही सेवा दी। डॉ यश पांडे का मानना है कि होम्योपैथिक में किसी विशेष सेवा का नहीं बल्कि पूरे शरीर का उपचार किया जाता है ताकि शरीर में कोई भी रोग घर नहीं कर सकें।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top