Viral

युवक ने निगल लिया Nokia का मोबाइल,डॉक्टर ने दो घंटे के ऑपरेशन के बाद पेट से निकाला

युवक ने निगल लिया Nokia का मोबाइल,डॉक्टर ने दो घंटे के ऑपरेशन के बाद पेट से निकाला

नई दिल्ली: दुनियाभर में मोबाइल का क्रेज गजब की स्पीड से बढ़ा है। बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक लोग अपनी दिनचर्या का ज्यादातर समय मोबाइल फोन में ही खर्च कर रहे है। मगर मोबाइल से ऐसा भी क्या लगाव कि एक शख्स ने उसे गले से ही निगल लिया। वो तो गनीमत रही कि डॉक्टरों ने जैसे तैसे शख्स की जान बचा ली।

दरअसल रिपोर्ट्स के मुताबिक कोसोवा के प्रस्टिना निवासी 33 वर्षीय एक शख्स ने बड़ा ही अजीबोगरीब और भयंकर काम किया है। उसने अपने नोकिया 3310 सेलफोन निगल लिया। इसके बाद ये फोन शख्स के पेट में जाकर जा फंसा। जिसका इलाज डॉक्टर स्केंडर तेलाकू ने किया। डॉक्टर ने ऑपरेशन कर इस मोबाइल को बाहर निकाला।

यह भी पढ़ें 👉  खाते में गलती से आए साढ़े पांच लाख रुपए, शख्स ने कहा मोदी जी ने भेजे हैं, गिरफ्तार

जानकारों की मानें तो फोन की बैटरी के कारण युवक अपनी जान भी गंवा सकता था। हालांकि कोई अनहोनी नहीं हुई। डॉक्टर ने अच्छा काम करते हुए युवक को बचा लिया। सफल ऑपरेशन के बाद डॉ तेलजाकू ने फेसबुक पर फोन की तस्वीरें, एक्स-रे और एंडोस्कोपी की कुछ इमेज को साझा की हैं।

डॉ. तेलजाकू ने कोसोवो में स्थानीय मीडिया से बात करते हुए अपना अनुभव साझा किया। उन्होंने कहा कि, “मुझे एक मरीज को लेकर फोन आया जिसने कहा कि उसने कुछ निगल लिया है। स्कैन करने के बाद पता चला कि उसके पेट के अंदर मोबाइल फोन है, जिसके तीन हिस्से अलग अलग बंट गए हैं।”

यह भी पढ़ें 👉  खाते में गलती से आए साढ़े पांच लाख रुपए, शख्स ने कहा मोदी जी ने भेजे हैं, गिरफ्तार

“सबसे अधिक परेशानी पेट में गई बैटरी के कारण थी। दरअसल इसके कारण व्यक्ति के पेट में ब्लास्ट हो सकता था।” मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो शख्स पेट में दर्द होने के बाद खुद प्रिस्टिना के अस्पताल गया था। डॉक्टर के मुताबिक युवक ने फोन निगलने का कारण नहीं बताया। बता दें कि पेट से डिवाइस को निकालने में दो घंटे का समय लगा।

यह भी पढ़ें 👉  खाते में गलती से आए साढ़े पांच लाख रुपए, शख्स ने कहा मोदी जी ने भेजे हैं, गिरफ्तार

गौरतलब है कि 2014 के एक केस स्टडी में सामने आया था कि लोगों के मोबाइल फोन निगलने के कई मामले आए हैं। साल 2016 में, एक 29 वर्षीय व्यक्ति ने अपना फोन निगल लिया और कई घंटों की उल्टी के बावजूद वह उसके पेट में फंसा रहा, जिसके बाद उसे निकालने के लिए सर्जरी की जरूरत पड़ी थी।

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top