Sports News

टेस्ट क्रिकेट में तेजी से आगे बढ़ रहे हैं ऋषभ पंत, एक पारी में धोनी के दो रिकॉर्ड तोड़ दिए

Ad
Ad
Ad
Ad

हल्द्वानी: बर्मिंघम में ऋषभ पंत ने 146 रनों की पारी खेलकर मुकाबले में भारत की पकड़ को मजबूत कर दिया है। भले ही पांचवे टेस्ट का पहला दिन ही हुआ हो लेकिन पंत जिस तरह से खेले उन्होंने विरोधियों को मानसिक रूप से तोड़ दिया। एक वक्त पर भारत का स्कोर 98 रन पर पांच विकेट था और वहां से पंत ने रवींद्र जडेजा के साथ मिलकर 320 रन पर ला दिया था।

दोनों के बीच छठे विकेट के लिए 222 रनों की साझेदारी हुई जो इंग्लैंड के खिलाफ एक रिकॉर्ड बन गई है। दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने 7 विकेट के नुकसान पर 338 रन बना लिए हैं। अब भारत को उम्मीद होगी कि अगर मिड लंच तक जडेजा निचले क्रम के साथ बल्लेबाजी कर ले तो स्कोर 400 के पार होगा और वह भी अपना तीसरा शतक पूरा कर लेंगे। जडेजा ने पहले दिन का खेल खत्म तक नाबाद 83 रन बना लिए हैं।

पंत का शतक और कई रिकॉर्ड

इंग्लैंड में पंत ने दूसरा शतक जमाया है। उन्होंने 111 गेंदों में 146 रनों की पारी खेली। इस दौरान उन्होंने 11 चौके और 4 छक्के लगाए। इस बीच ऋषभ पंत टेस्ट में 2000 रन पूरा करने वाले सबसे युवा भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज बन गए हैं। उन्होंने भारत के पूर्व विकेटकीपर एमएस धोनी का रिकॉर्ड तोड़ा है।

यह भी पढ़ें 👉  एशिया कप 2023: पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को लगा झटका, तीन देशों ने ठुकराई पेशकश

ऋषभ पंत ने 52 पारियों में 2000 रन के आंकड़े को छुआ, जबकि धोनी ने 2000 रन पूरे करने के लिए 60 पारियों खेली थी। पंत ने शतक 89 गेंदों पर ही पूरा कर लिया था। वे उनके करियर का पांचवां शतक था। इसी के साथ पंत अब सबसे तेज टेस्ट शतक जड़ने वाले भारतीय विकेटकीपर बन गए हैं। इससे पहले ये रिकॉर्ड एमएस धोनी के नाम था। धोनी ने 2005 में पाकिस्तान के खिलाफ 93 गेंदों पर शतक लगाया था।

To Top