Nainital-Haldwani News

हल्द्वानी निवासी प्रतिभा ने शौक को रोजगार में बदला, इंस्टाग्राम पर मिल रहे हैं बंपर ऑर्डर


हल्द्वानी निवासी प्रतिभा ने शौक को रोजगार में बदला, इंस्टाग्राम पर मिल रहे हैं बंपर ऑर्डर

हल्द्वानी: रोजगार के लिए पलायन जरूरी है। ये बात कुछ प्रतिभाओं को देख कर तो बिल्कुल ही गलत साबित हो जाती है। सिर्फ हल्द्वानी शहर में ही ऐसे बहुत से कलाकार हैं, जो घर बैठे बैठे रुपए कमा रहे हैं। इसी कड़ी में प्रतिभा फुलोरिया का नाम भी आता है।

Ad

प्रतिभा अपनी प्रतिभा के बल पर मुंबई में अपनी कला के जलवे दिखा रही हैं। इतना ही नहीं पेंटिंग का शौक अब उन्हें रोजगार देने में भी मदद कर रहा है। सोशल मीडिया ने भी प्रतिभा की बहुत मदद की है। गौरतलब है कि बेटी ये सिखा रही है कि प्रतिभा और संकल्प है तो पलायन कुछ नहीं बिगाड़ सकता।

यह भी पढ़ें 👉  काठगोदाम पुलिस ने हल्द्वानी आ रही इनोवा कार से बरामद किए दो लाख रुपए- वीडियो देखें

हल्द्वानी हिम्मतपुर तल्ला निवासी प्रतिभा फुलोरिया वैसे तो फ्री लांसर के तौर पर एक ऑनलाइन एजुकेशन देने वाली कंपनी में काम करती हैं। साथ ही अल्मोड़ा जिले के मासी निवासी प्रतिभा ने बायोटेक्नोलॉजी में मास्टर्स किया है। पर अपना खाली समय प्रतिभा पसंदीदा चीज करने में व्यतीत करती हैं।

प्रतिभा को बचपन से ही पेंटिंग बनाने का शौक रहा है। प्रतिभा ने अपने पेंटिंग के हुनर को पिछले लॉकडाउन में और भी ज्यादा तराशा है। जब पूरा देश घरों में बंद रहकर क्या करें या क्या ना करें के सवाल के साथ जूझ रहा था। तब प्रतिभा अपने कैनवस पर कलाकारी दिखा रही थीं।

यह भी पढ़ें 👉  जुबिन नौटियाल के पिता को उत्तराखंड में BJP ने दिया टिकट...चकराता से आजतक नहीं हारी है कांग्रेस

पिछले साल का ही समय वो समय था जब प्रतिभा ने इस शौक को नई उड़ान देने का फैसला किया। प्रतिभा लोक कला व संस्कृति को अपने कैनवस पर उतारने में ज्यादा ध्यान देती हैं। खासकर उनकी ऐपण पेंटिंग अब वायरल हो रही है।

प्रतिभा ने बताया कि उन्होंने पेंटिंग की कोई एकेडमिक शिक्षा नहीं ली है लेकिन मां रीता फुलोरिया को देखकर ही ऐपण की बारीकियां सीखी हैं। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन में ही पेंटिंग के शौक को आगे बढ़ाने का फैसला किया।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में अबतक भाजपा और कांग्रेस ने नहीं खोले अपने पत्ते, आज से नामांकन भी शुरू...

बता दें कि प्रतिभा फुलोरिया का हुनर और ये पहल अब रंग ला रही है। मुंबई, बेंगलुरू जैसे बड़े शहरों में पेंटिंग बिक भी रही हैं। लिहाजा प्रतिभा ने दृढ़ संकल्प के बल पर घर बैठे बैठे अपने शौक को रोजगार में बदल दिया है।

प्रतिभा ने बताया कि उनकी ज्यादातर पेंटिंग ऐपण आधारित होती हैं। सामान्य पेंटिंग के साथ ही वह ऑयल पेंटिंग, मधुबनी पेंटिंग भी बनाती हैं। इनमें ऐपण का फ्यूजन भी रहता है। बता दें कि मुंबई, पुणे, दिल्ली, बेंगलुरू में प्रतिभा की पेंटिंग एक से दस हजार रुपए में बिक रही हैं।

To Top