Rajasthan

उपचुनाव से पहले एक साथ दिखे अशोक गहलोत और सचिन पायलट, क्या हो गई है कांग्रेस की नई शुरुआत


Ad
Ad

नई दिल्ली: राजस्थान में उप चुनाव के बीच कांग्रेस नेताओं की एकजुटता दिख रही है । मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट एक ही हेलीकॉप्टर में बैठे नज़र आए । मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्विटर पर तस्वीर साझा कर इस बात की जानकारी दी । प्रदेश प्रभारी अजय माकन और प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा भी उनके साथ मौजूद रहे ।

Ad
Ad

विधानसभा उपचुनाव के प्रत्याशियों का नामांकन भरवाने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, सचिन पायलट, प्रदेशाध्यक्ष गोविंद डोटासरा और प्रदेश प्रभारी अजय माकन वल्लभनगर पहुंचे। अपने समय से लगभग 1 घंटे देरी से तीनों एक ही हेलिकॉप्टर में उदयपुर पहुंचे। हेलीपैड से सचिन पायलट ने कार ड्राइव की और उनके बगल में सीएम अशोक गहलोत बैठे रहे।

उदयपुर की वल्लभनगर विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव से पहले दोनों का एक पेज पर आना बेहद जरूरी है। सत्ता पर काबिज कांग्रेस के भीतर भले ही कलह चल रहा हो लेकिन इसका असर जनता के मूड पर नहीं पड़ना चाहिए। इससे पहले दोनों के बीच हमेशा से ही कोई ना कोई अनबन होती रहती थी। दोनों के मनमोटाव के चलते ही राजस्थान में कई बार नेतृत्व परिवर्तन की भी बाते सामने आई हैं। माना जाता है कि गहलोत को पार्टी का धुर विरोधी समझा जाता है। मगर चुनाव और सीट का मामला देख आपसी अनबन को दरकिनार कर सभी नेता एकजुट होकर एकता का संदेश पार्टी कार्यकर्ताओं को देना चाहते है।

वल्लभनगर आए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा को जमकर घेरा। कहा, प्रधानमंत्री कहते हैं कि कांग्रेस ने 70 साल में क्या किया। अगर 70 साल लोकतंत्र जिंदा नहीं रहता तो आप प्रधानमंत्री कैसे बनते मोदीजी? लोकतंत्र जिंदा है, इसलिए आज हर एमएलए, एमपी को हाथ जोड़कर वोट मांगना पड़ता है। गहलोत ने कहा कि ये 2 बार चुनाव जीत गए हैं, इसलिए अब घमंड आ गया है। मगर इन्हें अब लोग समझने लगे हैं।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top