Uttarakhand News

देवभूमि में मदरसों के किए जाएंगे सर्वे, गड़बड़ी मिलते ही होगा एक्शन

Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून: उत्तराखंड वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स के सरकारी सहायता प्राप्त मदरसों पर बयान के बाद अब मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने फैसला ले लिया है। अब उत्तराखंड में भी उत्‍तर प्रदेश की तरह ही सरकारी सहायता प्राप्त मदरसों का सर्वे किया जाएगा। सीएम धामी ने इसे बेहद जरूरी बताया है।

बता दें कि मंगलवार को मीडिया से बातचीत के दौरान मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से संबंधित विषय में प्रश्न पूछा गया तो उन्होंने जवाब दिया। उन्होंने कहा कि मदरसों को लेकर काफी स्थानों से तरह तरह की बातें सामने आई हैं। ऐसे में उत्तराखंड में भी मदरसों का सर्वे कराना आवश्यक हो जाता है।

बता दें कि उत्तराखंड में वक्फ बोर्ड के अंतर्गत 103 तो वहीं मदरसा बोर्ड के अधीन 419 सहायता प्राप्त मदरसे हैं। वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स ने कहा कि सर्वे की शुरुआत वक्फ बोर्ड के अधीन संचालित मदरसों से होगी। अगर बजट के दुरुपयोग सहित कोई भी गड़बड़ी मिली तो मान्यता रद्द हो जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः दुल्हन ही राजशाही एंट्री, सिर पर पगड़ी बांध और बग्गी पर सवार होकर खुद की शादी में पहुंची

साथ ही कानूनी कार्रवाई करने का भी सरकार का प्लान है। इसके अलावा जो मदरसे बेहतर कार्य कर रहे होंगे, उन्हें प्रोत्साहन भी दिया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि मदरसों को सरकारी बजट का सदुपयोग करना होगा। इसी दिशा में आगे बढ़ते हुए मदरसों का सर्वे किया जाना है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
To Top