Nainital-Haldwani News

आपदा में मदद की बजाय टैक्सी चालक वसूल रहे हैं मनमाना किराया, नैनीताल में दो वाहन सीज


Ad
Ad

हल्द्वानी: आपदा में एक दूसरे की मदद करने के बजाय फायदा उठाने का गंदा काम कहीं कहीं पर शुरू हो गया है। देवभूमि में टैक्सी चालक मनमाफिक किराया वसूल रहे हैं। बाहरी राज्यों से आकर उत्तराखंड में फंसे रह गए पर्यटकों का कहना है कि हमसे मनमाना भाड़ा मांगा जा रहा है। गौरतलब है कि मजबूरी का फायदा उठाने वाली दो टैक्सियां भी बीते दिन नैनीताल में सीज की गई हैं।

Ad
Ad

उत्तराखंड में बारिश का कहर रविवार से मंगलवार तक देखने को मिला। कहर ऐसा कि पुरानी आपदाओं के जख्म ताजा हो गए। कुमाऊं मंडल में तो मानो इंसान थम गए केवल प्रकृति की खेल खेलने में लगी हुई थी। दानी जिलों से लेकर पर्वतीय इलाकों में बारिश की वजह से काफी नुकसान पहुंचा है। पुल बहने, सड़कें टूटने  सहित नेशनल हाईवे में ट्रैफिक बाधित हुआ है।

इसी वजह से कई पर्यटन स्थलों पर यात्री भी फंसे रह गए। बारिश और लैंडस्लाइड की वजह से नैनीताल के सभी रास्ते बंद हैं। ऐसे में टैक्सी चालकों द्वारा मनमाफिक रेट वसूलने के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। कोलकाता से आकर नैनीताल में फंसे एक पर्यटक ने बताया कि आपदा के बाद टैक्सी संचालकों ने किराया में इजाफा कर दिया।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल में एंट्री के लिए UP से पहुंचे पर्यटकों ने तोड़ा नियम और फिर लोगों को भड़काने लगे

उन्होंने आरोप लगाया और कहा कि हमें काठगोदाम स्टेशन से रात 10 बजे ट्रेन पकड़नी थी। जिस मजबूरी की फायदा उठाकर टैक्सी संचालक 500 से 600 प्रति सवारी ले रहे थे, जबकि पूरी टैक्सी का तीन से साढ़े तीन हजार किराया वसूला जा रहा था। इधर, हल्द्वानी में टैक्सी स्टैंड पर यात्रियों द्वारा शिकायत की जा रही हैं।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल में एंट्री के लिए UP से पहुंचे पर्यटकों ने तोड़ा नियम और फिर लोगों को भड़काने लगे

यात्रियों का कहना है कि टैक्सी वाले अल्मोड़ा जाने का किराया एक हजार रुपए तो वहीं ऑल्टो चालक 1500 रुपए वसूल रहे हैं। दूसरी तरफ टैक्सी चालकों का कहना था कि गाड़ी घूमकर जा रही हैं। इस कारण अधिक किराया लिया जा रहा है। बता दें कि इसी कारण से तल्लीताल में पुलिस ने दो टैक्सी सीज कर दी। ऐसा इसलिए क्योंकि पर्यटकों ने पुलिस से शिकायत की थी। दरअसल चालकों द्वारा नैनीताल से हल्द्वानी प्रति व्यक्ति 250 रुपए किराया लिया जा रहा था। जिसपर कहासुनी हो गई थी।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top