Tehri News

ठंड से बचने के लिए कमरे में अंगीठी जलाई,टिहरी में स्कूल पढ़ने वाले दो भाइयों की दम घुटने से मौत


देहरादून: ठंड से बचने के लिए कमरे में अंगीठी जलाने के वजह से कई लोगों के मौत के मामले सामने आ चुके हैं। हर साल इस तरह की घटनाएं उत्तराखंड में भी होती हैं। टिहरी जिले में अंगीठी जलाने की वजह से दो भाइयों की दम घुटने से मौत हो गई। दोनों भाई स्कूली छात्र थे। इस घटना के सामने आने के बाद पूरे क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ पड़ी है।

टिहरी के विकास खंड भिलंगना के हिंदाव पट्टी के बगर ग्राम पंचायत की ये घटना बुधवार रात की है। पट्टी हिंदाव के ग्राम पंचायत बगर के चड़ोली तोक में बीते रात्रि को मकान सिंह नेगी के पुत्र अनुज नेगी (16) और आशीष नेगी (17)  माता-पिता के साथ अंगीठी सेक रहे थे। दोनों भाई एक ही स्कूल में कक्षा 11 वीं में पढ़ते थे। दोनों अंगीठी लेकर कमरे में चले गए। सुबह होने पर परिजनों ने दोनों को आवाज लगाई तो कोई रिपोंस नहीं मिला।

इसके बाद कमरे का दरवाजा तोड़ा गया। इसके बाद माता-पिता के पैरे तले जमीन खिसक गई। दोनों भाइयों के शव बेड पर पड़े थे। अपने दोनों बच्चों के शव देखकर मां बेहोश हो गई। इसके बाद पिता ने घटना की जानकारी ग्रामीणों को दी तो घर पर भीड़ एकत्र हो गई। मकर संक्राति के त्योहार के मौके पर परिवार इस परिस्थिति से गुजरेगा किसी ने सोचा नहीं था। दोनों स्कूली छात्र थे और घटना ने पूरे गांव के माहौल को गमगीन कर दिया है।

To Top