Nainital-Haldwani News

नैनीताल में AIDS के डराने वाले आंकड़े, सामने आया कारण!

नैनीताल: आज यानी दिनांक 1 दिसंबर को विश्व एड्स दिवस के मौके पर तमाम जगह जागरूकता अभियान चलाए जा रहे हैं। मगर क्या आप जानते हैं कि एड्स को लेकर नैनीताल जिले की स्थिति सबसे ज्यादा चिंताजनक है। जी हां, अगर हम कुमाऊं की बात करें तो नैनीताल जिले में एड्स को लेकर चिंता काफी बढ़ी हुई है।

नैनीताल जिले में पिछले 8 साल में 1145 मरीज एचआईवी के मिले हैं। इस साल की बात करें तो अभी तक अप्रैल से लेकर अक्टूबर तक जिले में 196 एचआईवी संक्रमित मरीज मिले हैं। कुमाऊं में नैनीताल जिले में एचआईवी संक्रमितों की संख्या अब तक सबसे ज्यादा दर्ज की गई है।

वहीं, देहरादून में पिछले 8 सालों में 2929 एचआईवी संक्रमित मिले हैं और यह सभी जिलों में सबसे ज्यादा है। राज्य में दूसरे नंबर पर हरिद्वार जिला है। पूरे प्रदेश की बात करें तो 6937 मरीज मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि नैनीताल जिले में एचआईवी के बढ़ने का कारण नशे के लिए किए जाने वाले इंजेक्शन का इस्तेमाल है।

To Top
Ad