Uttarakhand News

उत्तराखंड में शुरू होते ही रुक गया बूस्टर डोज अभियान, ये कैसी तैयारी?

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून: उत्तराखंड सरकार ने कोरोना के खतरे को लेकर सतर्कता तो दिखाई मगर कुछ ही दिन में लापरवाही नजर आई? दरअसल बूस्टर डोज अभियान रुक गया है। प्रदेश में कोविशील्ड वैक्सीन डोज का स्टॉक खत्म होने से बूस्टर डोज अभियान पर ब्रेक लग गया है। अब केंद्र सरकार के वैक्सीन भेजने के बाद ही इसे शुरू किया जाएगा।

प्रदेश सरकार ने केंद्र से तीन लाख वैक्सीन मांगी है। बता दें कि 65 लाख से अधिक लोग ऐसे हैं, जिन्होंने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए तीसरी खुराक नहीं ली है। उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार ने पहले ही निर्देश दिए थे कि केंद्र की ओर से वैक्सीन नहीं दी जाएगी।

ऐसे में राज्य भर में 23 दिसंबर से कैंप लगाने के निर्देश जारी किए गए। 172 लोगों को वैक्सीन लगवाई गई। इसमें 147 लोगों ने बूस्टर डोज लगवाई। स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ. शैलजा भट्ट ने बताया कि केंद्र सरकार ने तीन लाख वैक्सीन मांगी गई है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में मोटे अनाजों की खेती को दिया जाएगा बढ़ावा,धन सिंह रावत बोले स्वास्थ्य है अहम
To Top