Ad
Nainital-Haldwani News

रानीबाग दौरे में सीएम धामी ने जनता को करोड़ों की सौगात लेकिन मीडिया से बनाई दूरी

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

हल्द्वानी: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को रानीबाग-भीमताल पुल का शुभारंभ किया। इस पुल का निर्माण अक्टूबर 2020 से चल रहा था। डबल लेन पुल के शुरू होने से रानीबाग क्षेत्र में जाम की समस्या से निजात मिलेगा। इसके अलावा पर्यटन को भी रफ्तार मिलेगी। पुल के उद्घाटन के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने महर्षि विद्या मंदिर, अमृतपुर पहुंचे जहां उन्होंने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार योजनाओं के शिलान्यास के साथ ही लोकार्पण के लिए भी संकल्पबद्ध है। जमरानी बांध निर्माण का कार्य भी प्रस्तावित है जिसे जल्द ही शुरू किया जाएगा। इसके लिए केंद्र सरकार द्वारा सहमति भी दी गई है। भारत सरकार द्वारा लगभग 1200 टॉवर 4 जी के लिए विभिन्न स्थलों पर स्वीकृत किये गए है। भारत नेट योजना के तहत लगभग 02 हजार गांव को इंटरनेट से जोड़ा जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि एच एम टी की भूमि पर मिनी सिडकुल प्रस्तावित किया जा रहा है। अपने संबोधन में सीएम ने UKSSSC पेपर लीक मामले का भी जिक्र किया और कहा कि 30 गिरफ्तारी हो गई है और धांधली से जुड़े लोगों को बिल्कुल नहीं छोड़ा जाएगा। एसटीएफ की जांच जारी रहेगी।

संबोधन के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी बिना पत्रकारों के सवालों का जवाब दिए चले गए। पत्रकारों ने UKSSSC व विधानसभा में हुई भर्ती को लेकर उठे विवाद पर सवाल पूछने चाहे लेकिन जवाब नहीं मिला। कार्यक्रम स्थल पर एक युवा छात्र भी पहुंचा और UKSCCC पेपर लीक मामले में इंसाफ की गुहार लगाई। मुख्यमंत्री के मीडिया से दूरी बनाए जाने को लेकर भले ही भाजपा नेता व प्रशासन मौसम की खराबी और कार्यक्रम के चलते व्यस्तता की बात भले ही कर रहा हो लेकिन एक बात साफ है कि मीडिया के सवालों से फिलहाल भाजपा बचना चाहती है ताकि विपक्ष उस जवाब से कोई और मुद्दा नहीं बना ले। विधानसभा भर्ती पर जब पूर्व अध्यक्ष प्रेम चंद्र अग्रवाल से सवाल किए गए थे तो वह नियमों के आधार पर भर्ती होने की बात कह रहे थे। इसके अलावा उन्होंने सभी लोगों को बिना परीक्षा व अन्य मानकों को जाने बिना योग्य भी करार दिया था। उनके कथन के बाद भाजपा की काफी किरकिरी हुई थी और पार्टी उससे बचना चाहती है।

Join-WhatsApp-Group
To Top