Health

डीजी हेल्थ ने जीनोम सीक्वेंस को लेकर जनपदों को किए सख्त निर्देश जारी

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून,जीनोम सीक्वेंसिंग को लेकर उत्तराखंड के सभी जनपद में तैनात स्वास्थ्य अधिकारियों को सख्त निर्देश जारी किए गए हैं कि वह इसको लेकर गंभीरता के साथ कार्रवाई को अमल में लाएं ।। आपको बता दें कि यह एक तरह से किसी वायरस का बायोडाटा होता है. कोई वायरस कैसा है, किस तरह दिखता है, इसकी जानकारी जीनोम से मिलती है. इसी वायरस के विशाल समूह को जीनोम कहा जाता है. वायरस के बारे में जानने की विधि को जीनोम सीक्वेंसिंग कहते हैं. इससे ही कोरोना के नए स्ट्रेन के बारे में पता चला है. स्वास्थ्य महानिदेशक ने बताया कि राज्य में अभी ओमिक्रॉन वायरस के ही मामले सामने आ रहे है।। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि जीनोम सीक्वेंस की प्रतिदिन 10% तक सैंपल लिए जा रहे हैं जिससे कि बीमारी का स्वरूप पता लगाया जा सके उन्होंने बताया कि वर्तमान में दूर मेडिकल कॉलेज में इसकी जांच हो रही है भविष्य में अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज में भी व्यवस्था को लागू कराए जाने की तैयारी की जा रही है।।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top