Nainital-Haldwani News

हल्द्वानी में पति पत्नी का खास व्यापार, अब पहाड़ी उत्पादों को मिलेगा ग्लोबल बाज़ार


हल्द्वानी: कोरोना काल ने कई सारे लोगों के जीवन में अंधकार लाने का काम किया है, इस बात से मुंह नहीं फेरा जा सकता है। लेकिन ये भी सच है कि कोरोना काल जैसे संकट वाले समय में कई लोगों ने बड़े अवसर खोज निकाले। आप खुद अपने आसपास देखिए, आप पाएंगे कि काफी सारे स्टार्टअप कोरोना काल के दौरान या उसके बाद ही शुरू हुए थे। आज हल्द्वानी के ऐसे ही एक स्टार्टअप की कहानी आपसे साझा करेंगे, जिसके माध्यम से पहाड़ को सशक्त किया जा रहा है।

पहाड़ी उत्पादों को ग्लोबल बाजार देने की दिशा में ना केवल उत्तराखंड के कैफे, रेस्त्रां आगे आए हैं बल्कि कई सारे युवाओं ने इस दिशा में व्यवसाय भी शुरू किया है। हल्द्वानी मोतीनगर में मोहन लोशाली और दीपा लोशाली द्वारा दाज्यु की दुकान शुरू की गई है। जहां आपको सरसों का तेल, आटा, मसाले, पहाड़ी दालें, बड़ी, भांग-भंगिरा, बेसन, काला व पहाड़ी लाल चावल आदि सामान मिल जाएगा।

खास बात यह है कि यह उत्पाद मोती नगर में ही प्रोसेसिंग यूनिट में तैयार किए जाते हैं। शुद्धता की भी पूरी गारंटी रहती है। “लोशाली प्रोडक्ट” नाम से उनका सरसों का तेल भी मार्केट में खूब बिक रहा है। यह प्रतिष्ठान “दाज्यु की दुकान” पांडे निवास, कालाढूंगी रोड हल्द्वानी में स्थित है। मोहन लोशाली और दीपा लोशाली का उद्देश्य इस कार्य के माध्यम से पहाड़ में खेती करने वाले लोगों के उत्पादों को बड़ी बाजार देने का है।

मोहन लोशाली ने हल्द्वानी लाइव से बात करते हुए बताया कि करीब दो साल पहले उन्होंने उद्योग शुरू किया था और बीते वित्तीय वर्ष में उनका टर्नओवर 40 लाख से ज्यादा रहा है। उन्होंने कहा कि बदलते वक्त में खानपान को लेकर लोग सचेत हुए हैं और जरूरत है कि ग्राहकों के पास शुद्ध उत्पाद ही पहुंचाए जाए। मोहन लोशाली ने बताया कि फिलहाल उनकी प्रोसेसिंग यूनिट को बड़ा करने की कोशिश है। ताकि क्षेत्र के लोगों को रोजगार मिलने के साथ साथ शहरों में पहाड़ के शुद्ध उत्पादों को भेजा जा सके।

To Top