Nainital-Haldwani News

हल्द्वानी के प्रकाश उपाध्याय को मिला विश्व कला सम्मान, कई रिकॉर्ड कर चुके हैं अपने नाम

Prakash Chandra Upadhyay:- उत्तराखंड राज्य के निवासी किसी न किसी कला में अपनी दक्षता के कारण अपना व राज्य दोनों का नाम रोशन करते आए हैं। उत्तराखंड में हल्द्वानी निवासी प्रकाश चंद्र उपाध्याय ने भी अपने हुनर के दम पर क्षेत्र का नाम रोशन किया है। बता दे कि प्रकाश चंद्र उपाध्याय हल्द्वानी के हल्दूचौड़ इलाके के रहने वाले हैं। वे वर्तमान में राजकीय मेडिकल कॉलेज में आर्टिस्ट पद पर कार्यरत हैं। प्रकाश को अपनी कला के कारण हाल ही में प्रयागराज के एक आयोजन में विश्व कला सम्मान से सम्मानित किया गया।

प्रयागराज उत्तर प्रदेश की रजिस्टर्ड संस्था नारायण आर्ट अकादमी के द्वारा आयोजित ऑफलाइन पांच दिवसी अंतरराष्ट्रीय चित्रकला प्रदर्शनी 2023 में उत्तराखंड राज्य से प्रकाश चंद्र उपाध्याय को आमंत्रित किया गया था। इस अवसर पर संस्था द्वारा उन्हें कला क्षेत्र में बेहतरीन कार्य करने के लिए विश्व कला सम्मान 2023 से सम्मानित किया गया। यह प्रदर्शनी गांधी कला विथीका प्रयागराज में दिनांक 5 नवंबर से 9 नवंबर तक चली। इस दौरान 12 देशों के आर्टिस्ट सहित कुल 200 कलाकारों ने इस प्रतियोगिता में भाग लिया था।

प्रकाश चंद्र उपाध्याय ने इस से पहले राज्य सहित देश के कई अलग अलग शहरों की चित्रकला प्रदर्शनी व कार्यशाला में भी प्रतिभाग किया है। उनके नाम अब तक आठ व्यक्तिगत विश्व रिकॉर्ड दर्ज हैं, जिनमें गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड, लिम्का बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड, इंडिया बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड सहित कई व्यक्तिगत रिकॉर्ड शामिल है। इसके अलावा उन्हें विभिन्न संस्थाओं द्वारा चित्रकला प्रदर्शनी और कार्यशालाओं के लिए अलग-अलग सम्मान वह पुरस्कार से नवाजा जा चुका है। प्रयागराज में आयोजित इस प्रतियोगिता में मुख्य अतिथि न्यायमूर्ति विक्रम चौहान, विशिष्ट अतिथि डा. देवेंद्र त्रिपाठी, डा. श्रद्धा शुक्ला, प्रोफेसर राजेश प्रसाद, डा. भारत भूषण एवं संस्था के अध्यक्ष न्यायमूर्ति सुधीर नारायण, सहसंयोजक कुलदीप वर्मा और संयोजक रविंद्र नाथ कुशवाहा आदि उपस्थित रहे।

To Top
Ad