Uttarakhand News

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जनसंपर्क अधिकारी को किया बर्खास्त


देहरादून:उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी को लेकर एक पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। यह पत्र में सीएम पुष्कर सिंह धामी के जनसंपर्क अधिकारी नंदन सिंह बिष्ट ने बागेश्वर एसएसपी को लिखा है जिसमें वह 3 वाहनों के चालान को निरस्त करने करने की बात कर रहे हैं। पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। नंदन सिंह बिष्ट की ओर से भेजे गए पत्र में तीन वाहनों के चालान निरस्त करने का आदेश है। मुख्यमंत्री के मौखिक निर्देश होना पत्र में बताया गया है।

सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद राज्य सरकार की किरकिरी हो रही है। वही युवा सीएम पर भी सवाल उठ रहे हैं। मामले के सामने आने के बाद मुख्यमंत्री धामी ने तुरंत एक्शन लिया है और उनके पद का गलत प्रयोग कर रहे जनसंपर्क अधिकारी को बर्खास्त कर दिया है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड:मीनस पुल के पास पहाड़ी से गिरा पत्थर, तीन लोगों की मौत

यह पत्र आठ दिसंबर को लिखा गया है। मुख्यमंत्री के मौखिक निर्देशानुसार 29 नवंबर को बागेश्वर यातायात पुलिस ने वाहन संख्या यूके02सीए, 0238, यूके02सीए, 1238 और यूके04सीए 5907 के चालन निरस्त करने का कष्ट करें। इसकी प्रतिलिपि संभागीय परिवहन अधिकारी बागेश्वर को भी सूचनार्थ भेजी गई है। इस पत्र के वायरल होने के बाद विपक्ष जांच की मांग कर रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  अभी तो और बढ़ेगी उत्तराखंड में सर्दी... अगले तीन दिनों में बारिश व बर्फबारी का अनुमान

उधर, वाहन स्वामी मनोज साह का कहना है कि उनके ट्रक सरकारी राशन का ढुलान करते हैं। दो वर्ष से ढुलान का पैसा लगभग बीस लाख रुपये अभी नहीं मिला है। डेढ़ वर्ष पूर्व उनके पिता का देहांत हो गया था। अभी तक जिला पूर्ति विभाग ने यह धनराशि नहीं दी है। टीआइ को भी आपबीती बताई थी। वह नहीं माने और उनके तीनों ट्रकों का चालान एक साथ कर दिया गया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड:मीनस पुल के पास पहाड़ी से गिरा पत्थर, तीन लोगों की मौत

दो ट्रक उनके और एक उनके भाई हरीश साह के नाम था। वह खड़िया भर कर हल्द्वानी जा रहे थे। यातायात पुलिस ने ओवर लोड में तीनों के चालान काट दिए। उन्होंने लगभग तीनों ट्रकों के चालान 45 हजार रुपये जमा भी कर दिए हैं। मुख्यमंत्री को पत्र लिखा था।

To Top