Uttarakhand News

उत्तराखंड: कोविड-19 के चलते बसों का किराया डबल, ये है नए किराए की लिस्ट


हल्द्वानी: त्रिवेंद्र सिंह रावत कैबिनेट की बैठक गुरुवार को राजधानी में हुई। इस बैठक में कई अहम फैसलों पर मोहर लगी। सबसे बड़ा फैसला जिसकी चर्चा चारों तरफ हो रही है वो है बसों का संचालन। उत्तराखंड में सार्वजनिक बस चलने लगेंगी। यात्रा करने वालों की जेब अब पहले से ज्यादा ढ़ीली होगी। उन्हें अब पहले से दो गुना किराया देना होगा। बता दें कि  मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की अहम बैठक में 18 विषयों पर चर्चा की गई।

कोविड-19 के चलते बसों में सोशल डिस्टेसिंग के मानकों के अनुसार 50 प्रतिशत यात्रियों को ही बैठाया जाएगा। इसी वजह से किराया बढ़ाया गया है। इसस पहले बस संचालकों ने 50 प्रतिशत सवारी के साथ मौजूदा किराया दर पर वाहन संचालन में असमर्थता जताई। उनका कहना था कि या तो बस में पूरी सवारी बैठाई जाए या फिर किराया बढ़ाया जाए। घाटे की वजह से उन्होंने बस संचालन से दूरी बना ली थी। यात्रियों को टैक्सी का सहारा लेना पड़ रहा था जो काफी महंगी है। इस वजह से सरकार ने किराए को डबल करने का फैसला लिया है। ये दरें केवल तभी तक प्रभावी होगा, जबतक महामारी एक्ट राज्य में लागू है।

उत्तराखंड में बसों की नई दरें

वातानुकुलीत श्रेणी में

थ्री बाय टू सीटर बसें – 1.25 गुणा वृद्धि
टू बाय टू सीटर बसें  – 1.9 गुणा वृद्धि
सुपर डीलक्स (वॉल्वो) – तीन गुणा वृद्धि

सिटी बस में किराया दर 

पहले दो किमी    – 07 से बढ़ाकर 14 रु
दो से छह किमी   – 10 से बढ़ाकर 20 रु
छह से 10 किमी  – 15 से बढ़ाकर 30 रु
10 से 14 किमी  –  20 से बढ़ाकर 40 रु
14 से 19 किमी  – 25 से बढ़ाकर 50 रु
19 से 24 किमी  – 30 से बढ़ाकर 60 रु
24 से 29 किमी  – 35 से बढ़ाकर 70 रु
29 किमी से अधिक- 40 से बढ़ाकर 80 रु

नॉन-डीलक्स बस किराया

साधारण बसें (मैदानी क्षेत्र) – 1.05 से बढ़ाकर 2.10 रुपये प्रति किमी
साधारण बसें (पर्वतीय क्षेत्र)- 1.50 से बढ़ाकर 3 रुपये प्रति किमी

To Top