Uttarakhand News

उत्तराखंड की खूबसूरती का कायल हुआ लंदन, पर्यटन के लिए दिया बेस्ट अवार्ड


उत्तराखंड की खूबसूरती का कायल हुआ लंदन, पर्यटन के लिए दिया बेस्ट अवार्ड
Ad
Ad

देहरादून: देवभूमि की बात ही अलग है। यहां की हवा में ऐसा स्पर्श है जिसे एक बार महसूस करने के बाद कभी भुलाया नहीं जा सकता। उत्तराखंड में रह रहे लोग भी पहाड़ की कीमत को अच्छे से समझते हैं। पर्यटन के मामले में उत्तराखंड के पास बहुत कुछ है। एक से बढ़कर एक टूरिस्ट स्पॉट, सुंदर नजारे। अब तो लंदन भी उत्तराखंड की खूबसूरती का कायल हो गया है।

Ad
Ad

ग्लोबल फोरम वर्ल्ड टूरिज्म रिस्पांसिबल अवार्ड्स (डब्ल्यूटीएम) लंदन ने उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद (यूटीडीबी) को ‘वन टू वाच’ पुरस्कार दिया है। गौरतलब है कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मिले इतने बड़े सम्मान के पीछे उत्तराखंड द्वारा पर्यटन के क्षेत्र में किए गए प्रयास और योगदान ही हैं। उत्तराखंड के लिए इससे अच्छा क्या हो सकता है कि पर्यटन के लिए उसे बेस्ट अवार्ड मिला है।

पर्यटन विभाग की ओर से अपर निदेशक पूनम चंद ने मंगलवार को वर्चुअल रूप से यह पुरस्कार प्राप्त किया। बता दें कि पुरस्कार समारोह में आयोजकों ने उत्तराखंड की जमकर तारीफ की। आयोजकों को लाकडाउन के दौरान राज्य में फंसे देश-विदेश के पर्यटकों को सुरक्षित उनके गंतव्य तक पहुंचाने पर्यटन विभाग का प्लान भी खासा पसंद आया।

विभाग की इस उपलब्धि पर पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज भी काफी खुश हैं। उन्होंने पर्यटन विभाग को उसके प्रयासों के लिए बधाई दी और कहा कि इस सम्मान के लिए हम डब्ल्यूटीएम के आभारी हैं। सतपाल महाराज ने कहा कि हमारी कोशिश दूर दराज क्षेत्रों में बैठे हर व्यक्ति तक विकास पहुंचाने की है।

साथ ही पीएम के दिए मंत्र पर चलकर स्वरोजगार के लिए वीर चंद्र सिंह गढ़वाली और दीनदयाल उपाध्याय जैसी योजनाओं के साथ पर्यटन क्षेत्र में विभिन्न प्रकास से विकास किया जा रहा है। इस मौके पर सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने कहा कि सम्मान पाकर हम सम्मानित महसूस कर रहे हैं। आगे और भी अच्छा काम करने के लिए सभी प्रतिबद्ध हैं।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top