Ad
Uttarakhand News

जारी है महंगाई की मार, गैस सिलेंडर की कीमत 900 रुपए पार

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून: देश में महंगाई अब सभी सीमाएं लांघ रही है। प्रदेश में भी इस बढ़ती महंगाई का असर साफ दिखने लगा है। पेट्रोल-डीजल के साथ रसोई गैस के दाम भी लगातार बढ़ने में लगे हुए हैं। एक बार फिर गैस सिलेंडर के दाम बढ़ाए गए हैं।

दरअसल बीते कुछ समय से देश भर में पेट्रोल-डीजल के दामों ने आम आदमी की कमर तोड़ कर रख दी है। रसोई गैस के दाम बढ़ने से घरों का बजट बिगड़ गया है। कोरोना महामारी से त्रस्त जनता को अब इस महंगाई से जूझना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  केदारनाथ की पहाड़ियों में आया एविलांच, वीडियो देखें

बता दें कि बीते 15 दिनों में गैर-सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर के दाम 50 रुपए तक बढ़ चुके हैं। अब आज एक बार फिर सिलेंडर के दामों में 25 रुपए की उछाल आई है। कमर्शियल सिलेंडर की कीमत भी 75 रुपए बढ़ गई है।

गौरतलब है कि इससे पहले पेट्रोलियम कंपनियों ने 18 अगस्त को गैस सिलेंडर की कीमतों में 25 रुपये का इजाफा किया था। आपको बता दें कि दिल्ली व अन्य शहरों के साथ उत्तराखंड में भी इस बढ़े दामों का असर पड़ गया है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में फिर टूटा कांग्रेस का दिल, विधायक के बेटा-बेटी भाजपा में शामिल

उत्तराखंड में 14.2 किलोग्राम के गैस सिलेंडर का दाम बढ़ गया है। अब प्रदेश में यह बढ़कर 904 रुपए पहुंच गया है। आपको याद होगा कि जुलाई और अगस्त में ही दाम बढ़े थे। हालांकि मई और जून में घरेलू सिलेंडर के दाम में कोई बदलाव नहीं किया गया था।

केवल अप्रैल ही याद आता है जब गैस सिलेंडर के दाम में 10 रुपए की कटौती की गई थी। विपक्ष भी इसे मुद्दा बनाकर आने वाले विधानसभा चुनावों में हथियार की तरह इस्तेमाल कर रहा है। कांग्रेस ने सरकार पर 15 दिनों के अंदर गैस सिलेंडर के दाम बढ़ाने के आरोप लगाए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में स्कूलों के खुलने का समय बदला

कांग्रेस का कहना है कि महंगाई के चलते पहले ही आमजनों का जीना दूभर हो रहा है। आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग दो वक्त की रोटी के लिए जूझ रहा है। ऐसे में ये लगातार दाम बढ़ना जनता के लिए गुजर बसर करने की बड़ी चुनौती है।

Join-WhatsApp-Group
To Top