Uttarakhand News

क्या धामी सरकार विधानसभा में समान नागरिक संहिता विधेयक प्रस्तुत करने वाली है !

Uttarakhand UCC Update: CM Dhami’s Speech at Vrindavan: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा वृन्दावन में यूनिफार्म सिविल कोड (UCC) पर दिया बयान इन दिनों काफी चर्चाओं में है। आपको बता दें की मुख्यमंत्री धामी 30 दिसंबर 2023 को वृन्दावन के वात्सल्य ग्राम में आयोजित षष्ठी पूर्ति महोत्सव में सम्मिलित हुए थे। जो साध्वी ऋतंभरा के संन्यास की 60वीं वर्षगाँठ पूरी होने पर मथुरा, वृन्दावन में मनाया गया था। प्रधानमंत्री मोदी की प्रभावशाली नीतियों का वर्णन करते हुए मुख्यमंत्री धामी ने जल्द ही उत्तराखंड में UCC लागू करने की बात कही।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के भाषण को और मथुरा की वर्तमान स्थिति को गौर से समझा जाए तो इस वक्तव्य के कई मतलब निकाले जा सकते हैं। लेकिन अवैध अतिक्रमण और अपराधों पर लगाम कस्ती नज़र आ रही उत्तराखंड की धामी सरकार महिला सुरक्षा को भी प्राथमिकता देती नज़र आ रही है। UCC लागू करने के साथ-साथ मुख्यमंत्री धामी ने तीन-तलाक पर लगी रोक के कारण मुस्लिम महिलाओं के जीवन में आए सार्थक परिवर्तन का भी वर्णन किया। अंदेशा लगाया जा रहा है कि धामी सरकार जल्द ही विधानसभा में समान नागरिक संहिता (UCC) पर विधेयक प्रस्तुत कर सकती है।

आपकी जानकारी के लिए यह सूचना आवश्यक इसलिए हो जाती है क्योंकि पिछले कुछ समय से धामी सरकार ने अवैध अतिक्रमण पर कड़ा रुख अपनाया हुआ है। सरकारी ज़मीनों पर अवैध रूप से बनाए गए ढांचों को तोड़ने के लिए धामी सरकार कई बार बुलडोज़र भी मैदान में उतार चुकी है। पहाड़ी गांव हों या सरकारी सम्पत्तियों पर कब्ज़ा धामी सरकार ने इन सभी से अतिक्रमण हटाने के लिए बुलडोज़र चलाया है।

मथुरा में भी अभी कुछ इसी प्रकार की स्थिति है जहाँ कृष्ण जन्मभूमि पर शाही ईदगाह के निर्माण को अवैध बताया जा रहा है और इसपर इलाहबाद हाइकोर्ट में सुनवाई भी हो रही है। और सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद अब राम मंदिर के निर्माण से भी हर जगह हर्ष का माहौल है। ऐसे में कई राजनीतिक विशेषज्ञों द्वारा मुख्यमंत्री धामी के भाषण के कई अर्थ निकाले जा रहे हैं।

To Top
Ad