Haridwar News

उत्तराखंड: ग्राम प्रधान अयोग्य घोषित, कभी स्कूल नहीं गई और बना दिए गए फर्जी दस्तावेज

UTTARAKHAND NEWS : उत्तराखंड में शैक्षिक फर्जीवाड़े के मामले कम होने के नाम नहीं ले रहे हैं। पिछले दिनों एक शिक्षक भी पकड़ा गया था और केस भी दर्ज कर लिया गया है। अब एक नया मामला हरिद्वार से सामने आया है, जहां ग्राम प्रधान आरोपी है। बहादराबाद ब्लॉक क्षेत्र की ग्राम पंचायत कोटा मुरादनगर की ग्राम प्रधान के शैक्षिक प्रमाणमत्र जाली मिले है। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसडीएम ने ग्राम प्रधान को अयोग्य घोषित कर दिया। इसके साथ ही रिपोर्ट जिला पंचायत राज अधिकारी को भेज दी गई है।

जानकारी के अनुसार कोटा मुरादनगर के ही मुजम्मिल अली ने निर्वाचित ग्राम प्रधान शाहजहां के शैक्षिक दस्तावेजों के फर्जी होने का आरोप लगाया था। ग्राम प्रधान शाहजहां ने नामांकन पत्र में कमला देवी जूनियर हाई स्कूल के शैक्षिक योग्यता का प्रमाण दिया था। मामला कोर्ट पहुंचा कोर्ट लेकिन शाहजहां ने बचाव के लिए कोई साक्ष्य प्रस्तुत नहीं किए। ये भी सानमे आया कि शाहजहां ने स्कूल से कभी कोई शिक्षा ग्रहण नहीं की है।

एसडीएम एसडीएम पूरण सिंह राणा ने शैक्षिक प्रमाण पत्र फर्जी होने के बाद शाहजहां को ग्राम पंचायत कोटा मुरादनगर के प्रधान पद के लिए अयोग्य घोषित कर दिया है। उन्होंने बताया कि अब आगे की कार्रवाई जिला पंचायत राज अधिकारी और जिलाधिकारी करेंगे।

इसके अलावा जिला विद्यालय निरीक्षक सहारनपुर, खंड शिक्षा अधिकारी बलिया खेड़ी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी सहारनपुर, सहायक शिक्षा निदेशक (बेसिक) सहारनपुर मंडल और संबंधित स्कूल के प्रधानाचार्य की ओर से अपनी रिपोर्ट शैक्षिक प्रमाण पत्रों को फर्जी माना है।

To Top
Ad