Almora News

अल्मोड़ा:सगी बहनों का नाम मेरिट लिस्ट में शामिल, स्कूल जाने के लिए चलना पड़ता था 2 KM पैदल


Almora news: Uttarakhand news: Success story: कुछ करने की अगर ठान ली जाए तो लक्ष्य दूर नहीं रहता। पहाड़ की बेटियां आज हर क्षेत्र में हुनर का लोहा मनवा रही हैं। राज्य की बेटियों ने अपनी मंजिल ही ऐसी रखी है जहां पर कामयाबी का मतलब है देश में उत्तराखंड के नाम को रोशन करना। एक बार फिर पहाड़ की बेटियों के परिश्रम ने अपने परिवार और उत्तराखंड का नाम रोशन कर दिखाया है। आज हम जिन दो बहनों के बारे में आपको बताने जा रहे हैं उनकी मेहनत को सारा देश सलाम कर रहा है… हम बात कर रहे हैं रोशनी और गुंजन की। जिन्होने उत्तराखंड बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा के परिणामों में 92 और 94.80 फिसदी अंक हासिल कर परिवार के साथ-साथ उत्तराखंड को भी गोरवान्वित होने का सुनहरा अवसर प्रदान किया है।

रोशनी और गुंजन एक बेहद सामान्य परिवार से रखती हैं ताल्लुक:

रोशनी और गुंजन मूल रूप से अल्मोड़ा जिले के धौलछीना के भेटाडांगी की रहने वाली हैं। उत्तराखंड बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा के परिणामों में जहां रोशनी ने 92 फीसदी अंक हासिल कर प्रदेश की मेरिट सूची में 23वां स्थान हासिल किया है। वहीं उनकी छोटी बहन गुंजन ने भी 10वीं के परीक्षा परिणामों में कमाल करते हुए 94.80 अंकों के साथ प्रदेश की मेरिट सूची में 24वें स्थान प्राप्त किया है। दोनो बहनें राजकीय इंटर कॉलेज नगरखान की छात्रा हैं। रोशनी और गुंजन एक बेहद सामान्य परिवार से ताल्लुक रखती है। वहीं उनके पिता आनंद सिंह रुद्रपुर में प्राइवेट जॉब करते हैं और मां सुनीता देवी गृहिणी है।

दो किलोमीटर पैदल चलकर जाती थीं स्कूल:

बहनें बताती हैं कि दोनों ने बिना किसी ट्यूशन के सेल्फ स्टडी के दम पर यह सफलता प्राप्त की है। सीमित संसाधनों होने के वजह से उन्होने कभी हार नही मानी और दोनों बहनें गांव से रोजाना दो किलोमीटर पैदल चलकर स्कूल जाती थीं और उन्होने पढ़ाई को सबसे आगे रखा। इसी का नतीजा है कि आज दोनों बहनों ने अभूतपूर्व उपलब्धि हासिल की । हल्द्वानी लाइव के तरफ से दोनों बहनों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं।

To Top