Uttarakhand News

मानसखंड कॉरिडोर में बनेंगे 16 रोपवे, केंद्रीय एजेंसी ने शुरू किया फीजिबिलिटी टेस्ट


Roapway project in Uttrakhand: Manskhand Corridor:- उत्तराखंड में कुमाऊं के मंदिरों और धार्मिक स्थलों के विकास और प्रसिद्धि के लिए सरकार द्वारा मानसखंड मंदिर माला मिशन की शुरुआत की गई थी। इस मिशन के तहत हो रहे विकास कार्य अब रंग लाने लगे हैं। मानसखंड कॉरिडोर के विकास और वहां होने वाले विभिन्न कार्यों को अब केंद्रीय योजनाओं में शामिल कर लिया गया है। बताते चले कि उत्तराखंड में एक और योजना की शुरुआत की गई है, जिसमें राज्य में 39 रोपवे प्रस्तावित किए गए हैं। इस योजना को पर्वतमाला प्रोजेक्ट के नाम से जाना जा रहा है। हाल ही में आई खबर के अनुसार पर्वतमाला प्रोजेक्ट के अंतर्गत आने वाले रोपवे में से 16 अब मानसखंड कॉरिडोर में विकसित किए जाएंगे। रोपवे के इन प्रस्ताव पर केंद्रीय एजेंसी ने फीजिबिलिटी टेस्ट भी शुरू कर दिए हैं। (Manaskhand mandir mala mission)

बताते चलें कि पूर्व में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मानसखंड कॉरिडोर के अंदर आने वाले आदि कैलाश और गूंजी की यात्रा की थी। इस दौरान वहां के कई अनछुए ऐतिहासिक स्थल विश्व के सामने आए। इस कारण अब देश विदेश से लोग इन स्थलों की यात्रा पर आ रहे हैं। इससे न केवल उत्तराखंड को वैश्विक पहचान मिल रही है, बल्कि स्थानीय आर्थिक स्थिति भी सशक्त हुई है। मानसखंड मंदिर माला मिशन को लेकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा ब्रांडिंग भी की गई थी, जो काफी सफल रही। यही नहीं मानसखंड की झांकी भी गणतंत्र दिवस परेड में अव्वल रही थी। इसके अलावा मानसखंड मंदिर माला मिशन के अंदर आने वाले मंदिरों और धार्मिक स्थलों की लोग यात्रा करें इसके लिए मुख्यमंत्री द्वारा रेल सेवा मानसखंड एक्सप्रेस का भी शुरुआत की गई थी। (Manaskhand Roapway project)

मानसखंड कॉरिडोर में सम्मलित मंदिर

मानसखंड कॉरिडोर के अंदर कैंची धाम, बाराही धाम देवीधुरा, रीठा साहिब गुरुद्वारा, चंपावत गोल्ज्यू मंदिर, पूर्णागिरि धाम, पिथौरागढ़ स्थित मोष्टमानु देवता मंदिर, हाट कालिका मंदिर, पाताल भुवनेश्वर मंदिर, बेरीनाग मंदिर, बागेश्वर में बागनाथ, बैजनाथ, कोट भ्रामरी मंदिर, अल्मोड़ा में जागेश्वर मंदिर समूह, कटारमल सूर्य मंदिर, नंदा देवी मंदिर कसार देवी मंदिर, बिनसर महादेव मंदिर, हैराखान मंदिर जैसे ऐतिहासिक व पौराणिक मंदिर शामिल किए गए हैं। (Temples of Kumaun Uttarakhand)

To Top