Uttarakhand News

अच्छी खबर है…दिल्ली से उत्तराखंड के तीन शहरों के लिए चलेंगी AC बसें


दिल्ली से उत्तराखंड के तीन शहरों के लिए चलेंगी AC बसें

देहरादून: दिल्ली (Delhi) से देवभूमि के विभिन्न स्थानों पर आने वाले यात्रियों की संख्या काफी अधिक है। बड़े शहरों से लेकर छोटे शहरों व गांवों के लोगों का दिल्ली लगातार आना-जाना लगातार लगा रहता है। ऐसे में उत्तर प्रदेश रोडवेज (Uttar Pradesh Roadways) ने यात्रियों को सुविधा देने के लिए उत्तराखंड के तीन शहरों (देहरादून, हरिद्वार व ऋषिकेश) के लिए एसी बसें चलाने जा रहा है।

Ad

उत्‍तर प्रदेश परिवहन की प्राफिट शेयरिंग पॉलिसी (Profit sharing policy) के तहत उत्तराखंड के तीन रूटों पर बसें चलाने की पूरी तैयारी है। माना जा रहा है कि जल्द ही संचालन शुरू हो जाएगा। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश रोडवेज अंतर्राज्यीय संचालन के लिए उत्तराखंड के इस वीआईपी श्रेणी रूट (VIP category route) को लाभकारी मानता है।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी सफलता...नैनीताल पुलिस ने पकड़ी कॉर्बेट में सप्लाई होने वाली 60 लाख की हेरोइन व स्मैक

हालांकि इस वक्त उक्त रूट पर सर्वाधिक कमाई उत्तराखंड रोडवेज (Uttarakhand roadways) की होती है। अब उत्तर प्रदेश रोडवेज भी अपनी एसी बसें चलाने जा रहा है। चूंकि उप्र रोडवेज ने चार सालों से एसी बस नहीं खरीदी हैं, इसलिए रोडवेज प्राइवेट कंपनियों के साथ अनुबंध कर एसी बसें चलाएगा। जिससे उसकी कमाई भी बढ़ सके।

यह भी पढ़ें 👉  डीडीहाट नहीं तो क्या रामनगर से ही चुनाव लड़ेंगे पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत...?

पहले चरण में इस रूट पर सात बसें उतारने के बाद अब और भी बसें चलाई जाएंगी। गाजियाबाद डिपो के आरएम (Ghaziabad depot RM) एके सिंह ने जानकारी दी और बताया कि इस रूट पर बसें चलाने से लाभ हुआ है। यात्रियों की संख्या बढ़ने के बाद अब एसी बसें चलाने की तैयारी है। दिल्‍ली से हरिद्वार, ऋषिकेश और देहरादून और एसी बसें चलाई जाएंगी।

यह भी पढ़ें 👉  पहाड़ों की रानी मसूरी में हुई सीजन की दूसरी बर्फबारी...वीकेंड पर लुत्फ उठाने पहुंचे सैलानी

बता दें कि इन बसों को आईएसबीटी कश्‍मीरी गेट (ISBT Kashmiri Gate) और आनंद विहार (Anand Vihar) से संचालित किया जाएगा। हालांकि लखनऊ से मंजूरी मिलने के बाद ही आगे का एक्शन पता चलेगा। मंजूरी मिलते ही बसों का संचालन शुरू हो जाएगा। इससे दिल्‍ली से उत्‍तराखंड जाने वाले यात्रियों को सुविधा होगी।

To Top