Breaking News

केजरीवाल की गिरफ्तारी का कारण बनी शराब, मंत्री बोले जेल से चलाएंगे सरकार


Delhi CM Arrest: Arvind Kejriwal ED Arrest:

21 मार्च 2024 को ED की टीम दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के घर पूछताछ के लिए पहुंची। शाम 7 बजे मुख्यमंत्री आवास पर पहुंचकर ED ने दो घंटे तक अरविन्द केजरीवाल से पूछताछ की। पूछताछ के बाद ED ने केजरीवाल को गिरफ्तार कर लिया। ED ने रात 9 बजे केजरीवाल को गिरफ्तार किया और 11 बजे उन्हें लेकर ED दफ्तर पहुंची। अपने नेता की गिरफ्तारी का शुरुआत से ही अंदाजा लगाने वाले सभी AAP के नेता और मंत्री भी मुख्यमंत्री आवास पहुँचने लगे। सभी ने ED की कार्रवाई का विरोध करते हुए जमकर नारेबाजी की। इस गिरफ्तारी के बाद अरविन्द केजरीवाल देश के पहले मुख्यमंत्री बन गए हैं जिन्हें गिरफ्तार किया गया हो।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की गिरफ्तारी दिल्ली शराब घोटाले के मामले में हुई है। बताया जा रहा है कि केजरीवाल के पास कोई भी मंत्रालय ना होने पर भी इस घोटाले से सम्बंधित हर जानकारी उनको मालूम थी और उन्हीं की देखरेख में यह पूरा मामला घटा है। केजरीवाल से पहले शराब घोटाले में दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और राज्यसभा सांसद संजय सिंह पहले ही गिरफ्तार हो चुके हैं। केजरीवाल की गिरफ्तारी रातों रात नहीं हुई, इससे पहले ED उन्हें 10 समन भेज चुकी थी जिसे उन्होंने नज़रअंदाज़ कर दिया था। केजरीवाल के वकील और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने केजरीवाल की गिरफ्तारी से पहले हाई कोर्ट में उनपर लगे आरोपों और ED की उनसे पूछताछ की मंशा को लेकर स्पष्टीकरण माँगा था जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया था।

केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद सभी AAP नेताओं का कहना है कि वो सब अरविन्द को ही अपना नेता मानते हैं और अब दिल्ली की सरकार उन्हीं के नेतृत्व में जेल से चलेगी। इससे पहले दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन भी महीनों तक जेल में रहते हुए अपने पद पर कार्यरत रह चुके हैं। सतेंद्र जैन ने अपना इस्तीफा मनीष सिसोदिया की गिरफ्तारी के बाद उनके साथ 28 फरवरी 2023 को दिया था। रात को हुई केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद आज सुबह सबसे ज़्यादा मंत्रालयों की ज़िम्मेदारी संभालने वाली आतिशी सिंह को भी हिरासत में लिया गया है। आतिशी के साथ मंत्री सौरभ भारद्वाज को भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। केजरीवाल के यह दोनों मंत्री रात से ही केजरीवाल के समर्थन में कई बयान दे रहे थे, यही वो दो मंत्री हैं जिन्होंने जेल से दिल्ली की सरकार चलने की बात कही है।

To Top