Dehradun News

नदी से बरामद हुआ अंकिता का शव, बेटी की आवाज़ बना पूरा उत्तराखंड

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

ऋषिकेश: अंकिता भंडारी की हत्या (Ankita Bhandari murder case) की खबर के सामने आने के बाद से पूरा उत्तराखंड दहल गया है। इस मामले में बीते दिन तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया था। अब शनिवार की सुबह उत्तराखंड SDRF ने अंकिता भंडारी का शव ऋषिकेश की चिल्ला नहर से बरामद कर लिया है।

बता दें कि SDRF के प्रवक्ता ने इस बात की पुष्टि की है कि अंकिता भंडारी के शव को चिल्ला नहर से बरामद किया गया है। इसके अलावा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मामले में SIT गठित की है। शनिवार सुबह ऋषिकेश अपर पुलिस अधीक्षक शेखर सुयाल ने जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि मृतका के भाई और पिता मेरे साथ थे और उन्होंने शव की शिनाख्त की है। SDRF अधिकारी की मानें तो शनिवार सुबह 7 बजे से ही सर्च ऑपरेशन शुरू किया था। नहर में एक महिला का शव मिला जिसको निकाला गया। परिजनों द्वारा शिनाख्त के बाद पता चला कि शव अंकिता का ही है। शव को ऋषिकेश के एम्स ले जाया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी की ओर आ रहा पिकअप खाई में गिरा, लिफ्ट लेकर बैठे व्यक्ति की हुई मौत

अंकिता वनंतरा रिजॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट थी और उसके गायब होने पर रिजॉर्ट के मालिक पुलकित आर्य की ओर से उसकी गुमशुदगी राजस्व पुलिस चौकी में दर्ज कराई गई। बृहस्पतिवार तक अंकिता का कुछ पता नहीं चला। इसके बाद मामले को लक्ष्मणझूला थाना पुलिस को ट्रांसफर कर दिया था। जब पुलिस ने जांच की तो रिजॉर्ट के संचालक और उसके मैनेजरों की भूमिका सामने आई। बताया जा रहा है कि तीनों आरोपित अंकिता को वैश्यावृत्ति की तरफ धकेलना चाहते थे।

यह भी पढ़ें 👉  अब जोशीमठ की धार्मिक पहचान को भी खतरा...दुखद होता जा रहा मंजर

लेकिन अंकिता के बार बार मना करने पर उनके बीच विवाद हुआ। जानकारी के मुताबिक 18 सितंबर की रात को तीनों ने अंकिता को चिल्ला नहर में धक्का दिया था। एएसपी ने बताया कि पुलकित आर्य (निवासी स्वदेशी भवन, आर्यनगर, ज्वालापुर हरिद्वार), अंकित उर्फ पुलकित गुप्ता आर्य (निवासी दयानंद नगरी, ज्वालापुर, हरिद्वार) और सौरभ भास्कर (निवासी सूरजनगर, ज्वालापुर, हरिद्वार) को गिरफ्तार किया गया है।

To Top