Udham Singh Nagar News

पंतनगर यूनिवर्सिटी के छात्र अर्पित ने नहीं छोड़ी जीत की ज़िद, UPSC परीक्षा में देश में पाई 20वीं रैंक

Ad
Ad
Ad
Ad

जसपुर: जब बच्चे जिम्मेदारी उठाना सीख जाते हैं तो मां-बाप की जिंदगी आसान हो जाती है। हालांकि बच्चे के हर सफर में संघर्ष पूरा परिवार करता है। इसीलिए सफलता भी पूरे परिवार की ही मानी जाती है। इस वक्त जसपुर के चौहान परिवार में खुशियों का ठिकाना नहीं है। घर के बेटे अर्पित चौहान ने यूपीएससी की परीक्षा में 20 वीं रैंक जो हासिल कर ली है। शिक्षक-शिक्षिका का बेटा अर्पित आईएएस बन गया है।

अर्पित चौहान ऊधमसिंह नगर जिले के जसपुर के मोहल्ला चमन बाग कॉलोनी में रहते हैं। अर्पित के पिता बलकरन सिंह राजकीय प्राथमिक स्कूल सूत मिल में प्रधानाध्यापक हैं तो वहीं माता अनीता चौहान जीजीआईसी में प्रवक्ता हैं। बता दें कि अर्पित ने तीसरे प्रयास में यूपीएससी में 20 वीं रैंक हासिल की है। इससे पहले अर्पित को एक बार एग्जाम में सफलता मिली थी लेकिन उन्हें 297 वी रैंक हासिल हुई थी।

अर्पित की पढ़ाई की बात करें तो बेटे ने काशीपुर के मारिया स्कूल से 12वीं तक की पढ़ाई पूरी की है। इसके बाद उसने पंतनगर कृषि विश्वविद्यालय से बीटेक भी किया है। बेटे के बाद अर्पित ने प्रशासनिक सेवा में जाने का मन बनाया और यूपीएससी के लिए तैयारियां शुरू कर दीं। तैयारियों और संघर्ष का फल ये रहा कि उसने पूरे देश में 20वां स्थान हासिल किया है।

यह भी पढ़ें 👉  पश्चिम बंगाल में तैनात उत्तराखंड के जवान का निधन, तीन वर्षीय बेटी ने पिता को खोया

इस वक्त अर्पित के परिवार जन ही नहीं बल्कि क्षेत्र के सभी लोग जश्न में डूबे हुए हैं। हर कोई उनके घर आकर या उन्हें फोन कर बधाइयां दे रहा है। अर्पित बताते हैं कि छात्र छात्राओं को निर्णय जल्दी लेने चाहिए। अनुशासन के साथ पढ़ाई करनी चाहिए और फेल होने पर धैर्य बनाए रखना चाहिए। उन्होंने अपने पिता माता और गुरुजनों को सफलता का श्रेय दिया है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
To Top