Nainital-Haldwani News

हल्द्वानी के दो सबसे मशहूर फूड सेंटरों का लाइसेंस CANCEL, गुस्से में दिखे कमिश्नर दीपक रावत

Ad
Ad
Ad
Ad

हल्द्वानी: कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत ने बड़ी कार्रवाई करते हुए पूरे हल्द्वानी और आसपास में प्रसिद्ध गुप्ता छोले भटूरे व चटवाल चिकन शॉप का फूड लाइसेंस निरस्त कर दिया है। कमिश्नर दीपक रावत ने यह एक्शन आज हल्द्वानी में नहर कवरिंग रोड के निरीक्षण के दौरान लिया है। उन्होंने काम में लापरवाही मिलने पर दीपक रावत ने अधिकारियों को फटकार भी लगाई है। और लापरवाही ना करने की नसीहत दी है।

इस दौरान तब हड़कंप की स्थिति बन गई जब कमिश्नर रावत ने वर्कशॉप लाइन में स्थित गुप्ता भटूरे और चटवाल चिकन का फूड लाइसेंस कैंसल कर दिया। बता दें कि यह दोनों ही प्रतिष्ठान काफी प्रसिद्ध हैं। आयुक्त ने वर्कशाप लाईन में गुप्ता रैस्टोरेंट व छटवाल चिकन सेन्टर की दुकानों द्वारा सड़क पर ही बर्तनों की साफ सफाई करने को गंभीरता से लिया उन्होने मौके पर खाद्य अधिकारी को निरीक्षण कर दोनों दुकानों के लाइसेंस निरस्त करने के निर्देश दिये।

दरअसल कुछ दिनों पहले कुमाऊं मंडलायुक्त दीपक रावत ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये कुमाऊं के जिलाधिकारियों की बैठक में कूड़ा निस्तारण के लिए अधिकारियों को कड़ी हिदायत देते हुए स्थलीय निरीक्षण करने को कहा था। कमिश्नर रावत ने नाराजगी व्यक्त करते हुए मुख्य नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा. मनोज काण्डपाल को चेतावनी दी तथा नियमित साफ सफाई की चैकिंग कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश मौके पर दिये।

यह भी पढ़ें 👉  पहाड़ से लालकुआं आया था 19 वर्षीय पवन जोशी, दर्दनाक सड़क हादसे में गई जान

साथ ही यह भी स्पष्ट किया था कि कूड़ा निस्तारण ना होने और गंदगी दिखने पर अधिकारी जिम्मेदार होंगे और साथ ही सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। हल्द्वानी में निरीक्षण के दौरान कमिश्नर दीपर रावत ने मुख्य अभियंता सिंचाई एवं प्राधिकरण को निर्देश देते हुए कहा कि उन्हें नहर कवरिंग रोड की प्रगति रिपोर्ट रोज चाहिए। कमिश्नर दीपक रावत अचानक निरीक्षण के लिए पहले से जाने जाते हैं।

यह भी पढ़ें 👉  विराट कोहली और अनुष्का शर्मा की फोटो वायरल, इंस्टाग्राम पर हल्द्वानी का ज़िक्र भी किया

ऐसे में आज उन्होंने पार्कों की भी हालत देखी तो वहां भारी मात्रा में गंदगी व कूड़ा मिला। फिर क्या था, कमिश्नर ने अधिकारियों की क्लास लगा दी। उन्होंने यहां तक कह दिया कि सफाई ना होने पर संबंधित अधिकारियों की जिम्मेदारी होगी। साथ ही आईएएस दीपक रावत ने बताया कि वह कुमाऊं डीआईजी को भी पत्र लिखकर पार्कों में लगातार चेकिंग का आग्रह करने वाले हैं।

Join-WhatsApp-Group
Ad
To Top