Almora News

अल्मोड़ा के बेटे ने विदेश में बढ़ाया उत्तराखंड का मान, सीएम धामी ने किया लक्ष्य का सम्मान


अल्मोड़ा के बेटे ने विदेश में बढ़ाया उत्तराखंड का मान, सीएम धामी ने किया लक्ष्य का सम्मान
Ad
Ad
Ad
Ad

अल्मोड़ा: वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप में भारत को कांस्य पदक जिताने वाले अल्मोड़ा के युवा शटलर लक्ष्य सेन को उत्तराखंड सीएम धामी की तरफ से बड़ा सम्मान मिला है। मुख्यमंत्री ने नई खेल नीति के तहत उन्हें चेक देकर सम्मानित किया। गौरतलब है कि लक्ष्य सेन विश्व रैंकिंग में भी अपनी अच्छी पकड़ रखते हैं। उन्होंने हाल ही में विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप में अपने हुनर को एक बार फिर दिखाया है।

बता दें कि हाल ही में पहली बार बीडब्लूएफ विश्व चैंपियनशिप खेल रहे भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन ने अपना पहला पदक जीता था। उन्होंने 17वीं रैंक के खिलाड़ी को हराकर कांस्य पदक जीता था। इसी के साथ वह बीडब्लूएफ विश्व चैंपियनशिप में पदक जीतने वाले सबसे युवा भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं। उल्लेखनीय है कि लक्ष्य सेन अल्मोड़ा के रहने वाले हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड ने दिया देश को नया सितारा, पीएम मोदी ने लक्ष्य से कहा,आप देश की शान हो...

मुख्यमंत्री आवास स्थित जनता दर्शन हॉल में रविवार को एक कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें अल्मोड़ा निवासी युवा बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन को सम्मानित किया गया। लक्ष्य सेन की उपलब्धि के लिए उन्हें मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ₹15 लाख का चेक देकर सम्मानित किया। सीएम धामी ने लक्ष्य के साथ उनके पिता डीके सेन, माता मंजू सेन को भी सम्मानित किया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड ने दिया देश को नया सितारा, पीएम मोदी ने लक्ष्य से कहा,आप देश की शान हो...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि हमें लक्ष्य पर नाज है। वह प्रदेश ही नहीं बल्कि देश का गौरव है। वहीं लक्ष्य सेन का कहना था कि एक खिलाड़ी को पदक या पुरस्कार की लालसा नहीं रखनी चाहिए। खिलाड़ी को तो सिर्फ अपनी मेहनत और लगन पर ध्यान देना चाहिए। कड़ी मेहनत के बलबूते ही खिलाड़ी मंजिल तक पहुंच सकता है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड ने दिया देश को नया सितारा, पीएम मोदी ने लक्ष्य से कहा,आप देश की शान हो...

मुख्यमंत्री ने नई खेल नीति के तहत 15 लाख रुपये का चेक देकर सम्मानित किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि लक्ष्य की उपलब्धि से अन्य खिलाड़ी भी प्रेरित होंगे। प्रदेश सरकार की नई खेल नीति खिलाड़ियों को प्रोत्साहन देने में मील का पत्थर साबित होगी। इस दौरान कई और बैडमिंटन खिलाड़ी भी वहां मौजूद रहे।

Join-WhatsApp-Group
To Top