Uttarakhand News

सीएम धामी के अनुभव का इस्तेमाल करेगी भाजपा, दो विधानसभा चुनावों के लिए दी जिम्मेदारी

इतनी भी आसान नहीं मुख्यमंत्री धामी की राह, शपथ लेने से पहले ही नाराज हैं कई दिग्गज

देहरादून: साल 2022 में लगातार दो बार सरकार बनाने का इतिहास रचने वाली भाजपा को लीड करने वाले मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के अनुभव का लाभ पार्टी लेने वाली है। मध्यप्रदेश एवं राजस्थान में होने वाले विधानसभा के मद्देनजर भाजपा ने अपनी तैयारियों को अंजाम देना शुरू कर दिया है। इसी कड़ी में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का आगामी दो दिनों तक इन चुनावी राज्यों में दौरा प्रस्तावित किया गया है। यहां वह विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों में जनसभाओं को संबोधित करने के साथ ही यात्रा आदि कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे।


मोदी सरकार की शीर्ष प्राथमिकता में शामिल समान नागरिक सहिंता को लेकर उत्तराखंड में धामी सरकार तेजी से आगे बढ़ रही है। इसके अलावा धर्मांतरण कानून और देश के सबसे सख्त नकल विरोधी कानून को राज्य में लागू कर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी राष्ट्रीय फलक पर अपनी छाप छोड़ने में कामयाब रहे हैं। माना जा रहा है कि केंद्रीय नेतृत्व भी धामी की राष्ट्रीय स्तर पर बढ़ती स्वीकार्यता को भुनाने में कसर नहीं छोड़ना चाहता। यही वजह है कि अब दो चुनावी राज्यों राजस्थान एवं मध्यप्रदेश में आगामी दिनों में होने वाले चुनावों के मद्देनजर धामी का दो दिवसीय दौरा इन राज्यों के लिए लगाया गया है।

मुख्यमंत्री 19 सितंबर को मध्यप्रदेश के सागर की खुरई और बीना क्षेत्र में आयोजित जनसभा व अन्य कार्यक्रमों में प्रतिभाग करेंगे। जबकि 20 सितंबर को वे कोटा राजस्थान में भी कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे। राजस्थान के अलग अलग विधानसभा क्षेत्रों में उनके कार्यक्रम प्रस्तावित हैं। 21 सितंबर की सुबह सीएम वहां से देहरादून के लिए वापसी करेंगे।

To Top