Uttarakhand News

उत्तराखंड में डेंगू और चिकनगुनिया की रोकथाम के लिए स्वास्थय विभाग का Master Plan जारी  


Uttarakhand News: Dengue news: उत्तराखंड में लगातार मौसम करवट ले रहा है। बदलते मौसम के चलते अब डेंगू और चिकनगुनिया का खतरा भी बढ़ गया है। इसको देखते हुए अब स्वास्थय विभाग ने एडवाइजरी जारी की है। डेंगू और चिकनगुनिया के खतरे को लेकर स्वास्थय विभाग अलर्ट मोड पर आ गया है। और इसकी रोकथाम के लिए राज्य सरकार ने सभी विभागों को अभी से जरूरी कदम उठाने को कहा है। स्वास्थ्य सचिव डा. आर राजेश कुमार ने सोमवार को इस संदर्भ में एडवाइजरी जारी की।

राज्य के मैदानी क्षेत्रों में जून से अक्टूबर के बीच डेंगू व चिकनगुनिया का संक्रमण सबसे अधिक देखा जाता है। बीते साल भी राज्य में डेंगू का प्रकोप इस समय सबसे अधिक गया था। राज्य में मरीजों का आंकड़ा चार हजार से अधिक रहा। डेंगू का लार्वा सबसे ज्यादा खुले पानी की टंकी, कूलर, फूलदान, गमले, पुराने टायर में सबसे ज्यादा पनपता है। इसे देखते हुए राज्य सरकार ने सभी विभागों को अभी से अलर्ट रहने के लिए कहा है और मच्छरों को न पनपने देने के लिए जरूरी कदम उठाने को कहा है। स्वास्थ्य विभाग ने गाइडलाइन में निर्देश दिए हैं कि सभी नगर निगम व निकाय अपने-अपने क्षेत्रों में स्वच्छता अभियान चलाएं। लार्वा जड़ से समाप्त करने के लिए नगर निगम, नगर पालिका, आशा कार्यकर्ता व संबंधित विभाग की टीम बनाएं और इसपर जल्द से जल्द कार्रवाई करें। वहीं अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों में आइसोलेशन वार्ड बनाए जाएं ताकि लोगों को किसी भी परेशानी का सामना ना करना पड़े। और शहरी निकायों के माध्यम से सभी वार्डों में फॉगिंग भी करवाई जाए।

स्वास्थ्य सचिव की ओर से जारी एडवाइजरी में सभी डीएम और सीएमओ से ब्लाक स्तर पर माइक्रो प्लान तैयार करने को कहा गया है। ताकि छोटे स्तर पर ही मच्छरों को पनपने से रोका जा सके। वहीं लोगों से भी अपने आस पास स्वच्छता बनाए रखने के लिए कहा गया है ताकि मच्छरों का लार्वा उनके आसपास ना पनप सके।   

To Top