Nainital-Haldwani News

हल्द्वानी के दीक्षांशु नेगी की फिफ्टी गई बेकार…उत्तराखंड को मिली तीसरी हार

रणजी ट्रॉफी के लिए उत्तराखंड टीम का हुआ ऐलान, हल्द्वानी निवासी दीक्षांशु नेगी बने उप कप्तान
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

हल्द्वानी: पिछले मुकाबले में नागालैंड को एकतरफा मुकाबला हराने वाली उत्तराखंड की टीम को सोमवार को बड़ोदा के खिलाफ करारी शिकस्त मिली है। बड़ोदा ने छह विकेट से उत्तराखंड को हराकर टीम को इस सत्र विजय हजारे ट्रॉफी की तीसरी हार थमाई है। मैच में उत्तराखंड की तरफ से उपकप्तान हल्द्वानी निवासी दीक्षांशु नेगी ने लड़ने की पूरी कोशिश की। मगर बिना सपोर्ट के उनकी अर्धशतकीय पारी चमत्कार नहीं कर सकी।

सोमवार को उत्तराखंड की टीम इस सीजन विजय हजारे ट्रॉफी का अपना पांचवा मुकाबला खेलने उतरी थी। बड़ोदा के खिलाफ मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में मैच खेला गया। टॉस जीतकर गेंदबाजी चुनने के बाद बड़ोदा की टीम ने उत्तराखंड के बल्लेबाजों को क्रीज पर जरा भी चैन नहीं लेने दिया। उत्तराखंड ने दस रन पर अपने पहले चार विकेट खो दिए थे। टीम की तरफ से आठ बल्लेबाजों ने दस या उससे कम रन बनाए। जबकि चार खिलाड़ी शून्य पर आउट हुए।

दीक्षांशु नेगी ने पारी को संभालने की कोशिश की। उन्होंने निचले क्रम के बल्लेबाजों के साथ साझेदारी कर टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाने का प्रयत्न किया मगर 50 (67) के स्कोर पर वरुण आरोन की गेंद ने उन्हें छका दिया। बड़ोदा की तरफ से मेरीवाला ने तीन और आरोन ने चार विकेट झटके। उत्तराखंड टीम ने 110 रनों का टारगेट बड़ोदा को दिया। जिसे उन्होंने चार विकेट खोकर 22 ओवर से पहले ही चेज कर लिया। दीक्षांशु ने इस सीजन पांच मैचों में तीन विकेट लिए हैं और चार पारियों में 189 रन बनाए हैं। जिसमें दो फिफ्टी शामिल हैं।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ करने वाले शातिर ठग की लाखों की संपत्ति जब्त
To Top