Election Talks

CM पुष्कर सिंह धामी बोले कहीं भी रहूं मेरी आत्मा तो खटीमा में ही है,यहीं से चुनाव लड़ूंगा


Ad
Ad
Ad
Ad

खटीमा: चुनावों से पहले प्रदेश के मुखिया पुष्कर सिंह धामी ने सरकार के पांच सालों का लेखा जोखा जनता के साथ साझा किया है। उन्होंने इस ब्यौरे में सरकार द्वारा किया गया हर काम गिनाया है। अपने विधानसभा क्षेत्र की जनता को ही संबोधित करते हुए सीएम धामी ने ये ब्यौरा दिया। इसी दौरान मुख्यमंत्री ने जनता से ये भी पूछ लिया कि आप ही बताएं मैं कहां से चुनाव लड़ूं।

दरअसल शुक्रवार को मुख्यमंत्री धामी ने खटीमा में आयोजित पांच साल-नए इरादे युवा सरकार कार्यक्रम में शिरकत की। यहां से उन्होंने सभी 70 विधानसभा सीटों को लाइव संबोधित किया। इस संबोधन में सीएम धामी ने सरकार के कामकाज को बारीकी से जनता के समक्ष रखा। ये आयोजन हाईस्कूल चटिया में आयोजित हुआ था।

यहां सीएम धामी ने कहा कि कुछ रोज पहले एक पत्रकार ने पूछा था कि आप खटीमा से ही चुनाव लड़ेंगे। तो मैं आपसे पूछता हूं कि क्या मुझे खटीमा से चुनाव लड़ना चाहिए। बता दें कि इसके बाद पूरा मैदान हमारा विधायक कैसा हो पुष्कर सिंह धामी जैसा हो, के नारे से गूंज उठा। इसपर सीएम ने कहा कि मैं आपके ऋण से कभी मुक्त नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि मेरी आत्मा तो खटीमा में ही है। मैं यहां रहूं या देहरादून, खटीमा का ख्याल दिल से नहीं जाता।

बता दें कि इस संबोधन के दौरान सीएम धामी ने कहा कि केन्द्र सरकार ने राज्य के विकास के लिए पांच सालों में एक लाख करोड़ की धनराशि स्वीकृति देकर विकास में कोई अड़चन नहीं आने दी। साथ ही राज्यों की सड़कों के हाल को पहले से कई गुना बेहतर बना दिया। वहीं केदारनाथ धाम का पुनरोद्धार पीएम मोदी के विजन के बिना मुमकिन नहीं था। उन्होंने बताया कि चार हजार करोड़ से धाम का कायाकल्प किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री धामी ने आगे कहा कि साल 2024 तक ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल राइन का सपना साकार हो जाएगा। 125 किमी की इस रेल लाइन के लिए 29 करोड़ रुपए जारी हो चुके हैं। इसके अलावा स्वास्थ्य क्षेत्र में कुमाऊं को एम्स की सौगात मिलना अपने आप में बड़ी बात है। जहां उज्जवला योजना से महिलाओं की सहायता की है वहीं हवाई योजना चलाकर पर्यटन के क्षेत्र में भी सरकार ने आगे बढ़ने के प्रयास किए हैं।

सीएम धामी ने कहा कि 65 हजार बच्चों को टैबलेट दिए जा रहे हैं। 24 हजार पदों पर नियुक्ति प्रक्रिया चलाई गई है। इतना ही नहीं बल्कि सरकारी नौकरी के आवेदन के लिए फीस माफ की गई है। सीएम धामी ने इस दौरान नई खेल नीति व शिक्षा में हुए सुधारों की बात भी की। गौरतलब है कि इसी दौरान उन्होंने खटीमा सीट से चुनाव लड़ने की आशंकाओं और अटकलों पर भी स्थिति स्पष्ट की।

Join-WhatsApp-Group
To Top