Chamoli News

इसे चमत्कार ही तो कहते हैं,चमोली में रोडवेज बस खाई में गिरी और पेड़ पर जाकर अटकी


Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून: शनिवार को देहरादून से नागचूलाखाल जा रहे उत्तराखंड रोजवेज की बस खाई में गिर गई। गनीमत रही कि बस एक पेड़ पर जाकर अटक गई और यात्रियों की जान बच गई। स्थानीय लोग साल के पहले दिन इसे चमत्कार कह रहे हैं। जानकारी के अनुसार उत्तराखंड परिवहन निगम की बस गैरसैंण-नागचुला मोटर मार्ग पर कुणखेत गांव के पास 30 मीटर खाई में गिर गई। हादसा जिला मुख्‍यालय गोपेश्‍वर से करीब 125 किमी दूर हुआ।

देहरादून से रोजाना चलने वाली नागचूलाखाल आने वाली परिवहन बस अंतिम स्टेशन नागचुलाखाल से 15 किमी पहले कुणखेत गांव के पास सड़क हादसे का शिकार हो गई। हादसा शनिवार शाम करीब 5 बजे हुआ। इस सड़क हादसे में पांच लोग चोटिल हुए हैं। घटना के बाद पुलिस को वक्त रहते सूचना नहीं मिल पाई।

कुणखेत गांव में दूरसंचार की लचर व्यवस्था के चलते घायलों को परेशानी का सामना करना पड़ा। मजबूर होकर चोटिल यात्री दुर्घटनास्थल से स्थानीय वाहनों से व्यवस्था कर अपने घरों को निकल गए।वाहन चालक कालीचरण पुत्र बुद्दीराम निवासी सिमखोली पोखरी चमोली एवं सहचालक मनमोहन पुत्र वीरेंद्र निवासी कुणजुखाल सतपुली पौड़ी को भी हल्की चोटें आयी हैं।

कुणखेत के पूर्व प्रधान आनंद सिंह एवं बहादुर सिंह का कहना है कि गांव में मोबाइल नेटवर्क नहीं आते हैं। इस परेशानी को कई बार जनप्रतिनिधियों को अवगत कराया जा चुका है लेकिन कोई हल नही निकला है। इसके अलावा सड़के भी चौड़ी नहीं हो पाई और इस वजह से कई बार सड़क हादसे हो चुके हैं। थानाध्यक्ष गैरसैंण सुभाष जखमोला ने बताया की सभी सवारियां नजदीकी गांवों की थी, जो अपनी व्यवस्था कर अन्य वाहनों से घरों को चले गये थे।

Join-WhatsApp-Group
To Top