Dehradun News

उत्तराखंड के 10 प्रोफेसर विश्व के टॉप दो प्रतिशत प्रभावशाली वैज्ञानिकों की सूची में शामिल

Graphic Era University, Dehradun:-उत्तराखंड में एक के बाद एक युवा शिक्षा के क्षेत्र में नई ऊंचाई छू रहे हैं। इन सभी सफलताओं के पीछे कहीं ना कहीं उत्तराखंड के शैक्षिक संस्थानों का भी महत्वपूर्ण योगदान बनता है। उत्तराखंड के कई सरकारी व प्राइवेट शैक्षिक संस्थान देश ही नहीं बल्कि दुनिया के भी बेहतरीन संस्थानों में गिने जाते हैं। उत्तराखंड के एक ऐसे ही प्रसिद्ध संस्थान देहरादून स्थित ग्राफिक एरा डीम्ड यूनिवर्सिटी के नाम एक बड़ी उपलब्धि दर्ज हुई है। ग्राफिक एरा के 10 शिक्षकों के नाम दुनिया भर के दो प्रतिशत सबसे प्रभावशाली वैज्ञानिकों की सूची में शामिल किए गए हैं।


बता दिया जाए कि स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी और एल्जेवियर, यूएसए (USA) प्रतिवर्ष दुनिया की सैकड़ो वैज्ञानिकों की सूची तैयार करता है। इस सूची में शामिल हुए वैज्ञानिकों के नाम उन के कार्य, उपलब्धि और विशिष्टता पर निर्भर करते हैं। अलग-अलग वैज्ञानिकों के स्कोप्स, लेखन और प्रोफाइल्स का उपयोग करके दुनिया भर के दो प्रतिशत सबसे प्रभावशाली वैज्ञानिकों को इस सूची में जगह दी जाती है।


इस वर्ष ग्राफिक एरा ने एक अग्रिम सफलता हासिल करते हुए अपनी यूनिवर्सिटी के 10 शिक्षकों का नाम इस सूची में निश्चित करवाया है। रिपोर्ट के मुताबिक, ग्राफिक एरा डीम्ड यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ. नरपिंदर सिंह, डॉ. गौरव धीमान, डॉ. मोहम्मद वाज़िद, डॉ.यशवीर सिंह, डॉ.अरुणिमा नायक, डॉ.आलोक कुमार पांडेय, डॉ. मोहित बजाज़, डॉ. देशबंधु सिंह, डॉ. मनोज दिवाकर और डॉ. चंदमल शर्मा को दुनिया के चुनिंदा वैज्ञानिकों की सूची में स्थान दिया गया है। सूची में शामिल वैज्ञानिकों को उनके प्रकाशित शोधपत्रों में किए गए शोध कार्य, पेटेंट्स और विशिष्ट क्षेत्र में उनके योगदान के आधार पर शामिल किया जाता है। यह सूची शोध पत्रों के प्रकाशन की संख्या के बजाय प्रभावों पर ध्यान केंद्रित करती है।

To Top
Ad