Nainital-Haldwani News

हल्द्वानी में सील हुए पांच कमर्शियल भवन, बिना नक्शा पास आवासीय भवन निर्माण पर भी नजर


Ad
Ad

हल्द्वानी: शहर में अवैध रूप से चल रहे कमर्शियल भवनों में निर्माण कार्य को लेकर अधिकारीगण सक्रिय हैं। हल्द्वानी में लगातार छापेमारी का सिलसिला जारी है। विकास प्राधिकरण द्वारा बीते दिन भी कार्रवाई की गई है। शुक्रवार को प्राधिकरण उपसचिव व सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह ने पांच अवैध निर्माण सील किए हैं।

Ad
Ad

बता दें कि नगर में ऐसे व्यावसायिक भवन जिनमें बिना नक्शा पास किए ही निर्माण कार्य हो रहा है। इनमें से जिन पर पहले चालानी कार्रवाई हो चुकी है और फिर भी निर्माण कार्य जारी है, उनपर प्राधिकरण ने एक्शन लिया है। प्राधिकरण उपसचिव व सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह ने पांच व्यावसायिक भवनों को सील कर दिया है।

इस दौरान प्राधिकरण की उपसचिव ऋचा सिंह ने जानकारी दी और बताया कि इन्हें पहले भी कड़ी हिदायत दी गई थी। इनके चालान भी किए गए थे। लेकिन फिर भी बिना नक्शा पास कराए भवन का निर्माण कार्य चल रहा था। इसी वजह से सील की कार्रवाई को अंजाम दिया गया है। इनमें कारखाना बाजार के दो, ठंडी सड़क पर एक और भोटिया पड़ाव क्षेत्र के दो निर्माण कार्य शामिल हैं।

यह भी पढ़ें 👉  रेलवे अतिक्रमण हल्द्वानी, PWD ने 25 जेसीबी और 25 पोकलैंड मंगवाने की तैयारी शुरू की

सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह ने यह भी बताया कि 2017 से पहले विनियमित क्षेत्र में जिन व्यवसायिक भवनों के खिलाफ कार्रवाई की गई थी। उनकी फाइलों को दोबारा खोला जा रहा है। भवनों की जांच जारी है। लापरवाही मिलते ही कार्रवाई की जाएगी। गौरतलब है कि नगर में हर तरफ इसकी चर्चा हो रही है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड हाईकोर्ट ने उत्तराखंड क्रिकेट संघ को दी राहत, सचिव और प्रवक्ता की गिरफ्तारी पर रोक

सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह ने आम जन से भी अपील की है कि अगर वह प्राधिकरण के क्षेत्र में आते हैं तो आवासीय भवन निर्माण का नक्शा पास जरूर कराए नहीं तो नियम अनुसार एक्शन लिया जाएगा। इसके अलावा उन्होंने बताया कि आवासीय भवन निर्माण हेतु नक्शा पांच साल के लिए मान्य होता है। इसके बाद उसे रिन्यू कराया जा सकता हैं। वहीं पुननिर्माण कार्य के लिए नगर निगम से अनुमति लेना अनिवार्य है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top