Nainital-Haldwani News

हल्द्वानी गौलापार के सौरभ तीन महीने से गिनी देश में कैद, बेटे ने हाथ जोड़कर मांगी HELP

Ad
Ad
Ad
Ad

हल्द्वानी: उत्तराखंड के दो युवक सहित भारत के कुल 26 नाविकों (INDIA’S 26 CITIZEN ARRESTED IN GINI) को अफ्रीकी देश गिनी (AFRICAN COUNTRY GINI) ने पिछले करीब तीन महीने से कैद कर रखा है। एक कंपनी के कर्मचारियों के रूप में कच्चा तेल भरने वहां पहुंचे इन नाविकों को चोरी के आरोप में कैद किया गया है। इन नाविकों में देहरादून के तनुत मेहता और हल्द्वानी गौलापार के सौरभ स्वार (HALDWANI GAULAPAR SAURABH SWAR) भी शामिल है।

अब सौरभ के घरवालों को भी सब्र का बांध टूट रहा है। सौरभ के ढाई साल के बेटे शिवांश (SAURABH SWAR SON SHIVANSH PHOTO) की एक बड़ी ही मार्मिक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। जिसमें वो हाथ जोड़कर अपने पापा को घर लाने की मदद मांगता दिख रहा है। शिवांश ने प्रधानमंत्री मोदी और सीएम धामी (PM NARENDRA MODI AND CM PUSHKAR SINGH DHAMI) से भी मदद मांगी है। बता दें कि सौरभ स्वार ओएसएम फ्लीट मैनेजमेंट इंडिया प्राइवेट लिमिटेड चेन्नई के कर्मचारी हैं।

गौलापार निवासी सौरभ एमटी हीरोट ईडन शिप (MT HEROITE EDEN SHIP WORKER) में काम करते हैं। काम के सिलसिले में आठ अगस्त को सौरभ समेत 26 भारतीय नाविक जहाज से कच्चा तेल भरने के लिए नाइजीरिया के एकेपीओ टर्मिनल (NIGERIA AKPA TERMINAL) पहुंचे मगर 14 अगस्त को इन लोगों को अफ्रीकी देश गिनी की नौसेना ने कैद कर लिया। कथित तौर पर चोरी के आरोप लगाए गए हैं। सौरभ के भाई लक्की का कहना है कि बीते बुधवार को बात हुई थी। मगर अब भाई का नंबर बंद है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी बिंदुखत्ता में जंगली फल खाने से आठ बच्चों की तबीयत बिगड़ी, मचा हड़कंप
To Top