Uttarakhand News

कैंची धाम में श्रद्धालुओं को ठगना पड़ेगा महंगा, होटल संचालकों के लिए नियम लागू !


हल्द्वानी: गर्मी का सीजन शुरू होने के साथ ही नैनीताल जिले में लोगों की भीड़ बढ़ जाती है। इसके अलावा नैनीताल जिले में कई मंदिर और आश्रम है,जहां श्रद्धालु आशीर्वाद लेने के लिए पहुंचते हैं। गर्जिया देवी,घोड़ाखाल मंदिर और कैंची धाम में इन दिनों श्रद्धालुओं की काफी भीड़ देखने को मिल रही है।

कैंची धाम में पिछले कुछ वक्त से कई सेलिब्रिटी भी पहुंचे हैं ऐसे में नैनीताल घूमने आने वाले सैलानी भी नीम करोली बाबा से आशीर्वाद लेने के लिए पहुंच रहे हैं। एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ जिसमें कैंची धाम का दृश्य देखकर लग रहा था कि मानो 15 जून हो।

बता दें कि हर साल 15 जून को कैंची धाम में मेले का आयोजन होता है। लाखों श्रद्धालु नीम करोली बाबा से आशीर्वाद लेने के लिए कैंची धाम पहुंचते हैं।


कैंची धाम के समीप कई होटल और होमस्टे का संचालन होता है। बाहर से आने वाले लोगों के साथ किसी भी तरीके की ठगी ना हो, इसके लिए जिला पर्यटन अधिकारी ने साफ किया है कि अगर कोई भी होटल और होम स्टे संचालकों द्वारा अधिक किराया लिया जाएगा तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

ज्यादा पैसे कमाने के चक्कर में कई बार होटल का किराया बढ़ा दिया जाता है। कैंची धाम में श्रद्धालुओं की भीड़ बढ़ने से पर्यटन से जुड़े कारोबारियों को काफी लाभ हो रहा है।

लगातार बढ़ रही भीड़ प्रशासन के लिए भी चुनौती है, क्योंकि पार्किंग व अन्य व्यवस्थाओं को भी दुरुस्त रखना जरूरी है, नहीं तो जाम के अलावा कई समस्याएं सामने आएंगी। इसको लेकर जिलाधिकारी नैनीताल ने कहा है कि जल्द बैठक कर पर्यटन सीजन से संबंधित व्यवस्थाओं को मजबूत कराया जाएगा ताकि किसी को भी परेशानी ना हो।

To Top