Uttarakhand News

देश के सबसे कम उम्र के आईजी बने उत्तराखंड के अरुण मोहन जोशी

Uttarakhand Police Update: India’s Youngest IG Arun Mohan Joshi: उत्तराखंड के रहने वाले अरुण मोहन जोशी देश के सबसे कम उम्र (40 साल) के आईजी बन गए हैं। 2006 बैच में अरुण मात्र 23 साल में आईपीएस बने थे। 23 साल की आयु में आईपीएस बनकर 2006 में सबसे कम उम्र के आईपीएस बनने का रिकॉर्ड भी अरुण अपने नाम कर चुके हैं। आपको बता दें कि अरुण मोहन जोशी उत्तराखंड के चकराता निवासी हैं। 2006 के बाद सबसे कम आयु में आईपीएस बनने का रिकॉर्ड अन्य कई युवाओं ने अपने नाम किया है। लेकिन 40 साल में आईजी बनकर अरुण ने पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। जो उत्तराखंड के लिए गर्व की बात है।

वर्ष 2006 के आईपीएस अरुण मोहन जोशी के प्रमोशन पर डिपार्टमेंटल प्रमोशनल कमिटी (DPC) ने मोहर लगाई है। जिसके बाद अरुण की पदोन्नति हुई और अब वो आईजी पद ग्रहण कर चुके हैं। आपको बता दें कि वर्ष 2022 में सबसे कम आयु के आईजी 41 वर्ष के थे, जो अरुण की तरह 2006 में ही आईपीएस बने थे। लेकिन वर्ष 2023 में उत्तराखंड के सपूत अरुण मोहन जोशी अब 40 वर्ष की आयु में देश के सबसे कम उम्र वाले आईजी बन गए हैं।

देहरादून और हरिद्वार से अपनी प्राथमिक शिक्षा पूरी कर चुके हैं अरुण। जिसके बाद उन्होंने आईआईटी रुड़की में इंजीनियरिंग करने के लिए दाखिला लिया। लेकिन उनका तेज़ दिमाग, देश की सेवा करने का जज़्बा और कुछ अलग कर दिखाने की ललक ने उन्हें 2006 में आईपीएस बना दिया। जिसके बाद भी वे थमे नहीं अपने निर्णयों और कार्यशैली से सभी को प्रभावित करने वाले अरुण के तेज के आगे सभी मुरीद होते नज़र आने लगे। कोरोना काल के समय देहरादून से उनके निष्पक्ष ड्यूटी करने की वीडियो आज भी वायरल हैं। उनके काम करने के ढंग और प्रभावशाली व्यक्तित्व को देखते हुए हाल ही में 22 दिसंबर, 2023 को उत्तराखंड सचिवालय में मुख्य सचिव की अध्यक्षता में भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारियों की डीपीसी संपन्न हुई। जिसमें उन्हें आईजी पद के लिए पदोन्नति प्रदान करने का निर्णय लिया गया।

To Top
Ad