Dehradun News

उत्तराखंड लोकगायिका की मौत, खिड़की की ग्रिल पर फंदे से लटका मिला शव

Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून: राजधानी में लोकगायिका संजना राज की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उनका शव कमरे से बरामद किया गया जो ग्रिल पर लटका हुआ था। वह देहरादून की नेहरू कॉलोनी में किराए के मकान पर रहती थी। वह संगीत में ट्रेनिंग के अलावा नौकरी भी कर रही थी। कल शाम काफी देर तक संजना कमरे से बाहर नहीं आई तो पडोसियों ने दरवाजा खटखटाया तो कोई जवाब नहीं आया। इसके अलावा लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस घर में पहुंची तो देखा कि एक महिला अपने कमरे की खिड़की की ग्रिल से लटकी थीं। आगे पढ़ें…

पुलिस ने उन्हें जिला अस्पताल पहुंचाया, लेकिन डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। महिला की पहचान संजना राज (22) पुत्री भीम दास निवासी मलेथा, सहिया के रूप में हुई। प्रथम दृष्टि से पुलिस को सुसाइड केस लग रहा है। पुलिस को मौके से कोई नोट भी नहीं मिला है। शुरुआती पूछताछ में पुलिस को पता चला कि संजना के बाद दो महीने पहले तक कोई रहता था और उससे पूछताछ चल रही है। दोनों लिव इन में रहते थे या सिर्फ  दोस्त थे, इस बात की जांच की जा रही है। आगे पढ़ें…

संजना राज सोशल मीडिया पर खूब पोपुलर थीं। वह जौनसार बावर की उभरती हुईं लोक गायिका थीं। वह पिछले 13 साल से गायकी की दुनिया में थी। वह सोशल मीडिया के जरिए लोक संस्कृति को बढ़ावा देने की बात करती थी। संजना राज का यूं जाना लोक संस्कृति के क्षेत्र में बहुत बड़ा नुकसान है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
यह भी पढ़ें 👉  धरने पर बैठे दिवंगत अंकिता भंडारी के माता-पिता, बेटी को याद किया तो छलके आंसू
To Top