Uttarakhand News

हल्द्वानी की तरह अब पूरे उत्तराखंड में दुपहिया वाहन पर पीछे बैठी सवारी को लगाना होगा हेलमेट


Uttarakhand news: Double helmet rules: उत्तराखंड में आए दिन सड़क हादसे होते हैं। सड़क हादसों की वजह से कई लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ती है। लेकिन अब उत्तराखंड में सड़क पर वाहनों में चलने वाले लोगों की सुरक्षा के लिए एक बड़ा कदम उठाया गया है। प्रदेश में दुपहिया वाहन पर बैठी पीछे की सवारी के लिए हेलमेट पहनने पर अब सख्ती होगी। तो वहीं चौपहिया वाहनों में भी सीट बेल्ट की अनिवार्यता होगी। मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने सोमवार को बैठक में ये निर्देश दिए। ( Double helmet for two wheelers and seat belt for four wheelers rules will be implemented in uttarakhand )

यह निर्देश दिए गए

सीएस राधा रतूड़ी ने सोमवार को सचिवालय में राज्य सड़क सुरक्षा कोष प्रबन्ध समिति की बैठक ली। इसमें उन्होंने पूरी तरह से फेसलेस चालान सिस्टम को लागू करने, राज्य की सीमाओं और सभी मुख्य मार्गों पर एएनपीआर कैमरों के साथ ही शहरों में ड्रोन कैमरों से ट्रैफिक व्यवस्था की मॉनिटरिंग एवं चालान के निर्देश दिए। उन्होंने शिक्षा विभाग को स्कूलों में सप्ताह में एक दिन बच्चों को सड़क सुरक्षा के संबंध में जागरूक करने को भी कहा। उन्होंने ट्रैफिक सिग्नल को एएनपीआर तथा आरएलवीडी सिस्टम से अपग्रेड करने के भी निर्देश दिए। ( Orders to upgrade traffic system )

तत्परता से काम करने के निर्देश

मुख्य सचिव ने दुपहिया वाहनों पर पीछे बैठने वालों के लिए हेलमेट पहनने और चौपहिया वाहन में सभी के लिए सीट बेल्ट के नियम को सख्ती से लागू करवाने के निर्देश दिए। पुलिस विभाग को सड़क सुरक्षा एवं यातायात जागरुकता के लिए आधिकारिक सोशल मीडिया के माध्यम से जन जागरुकता कार्य करने को भी कहा। बैठक के दौरान मुख्य सचिव ने हिट एंड रन और गुड समेरिटन के व्यापक प्रचार-प्रसार के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने राज्य के मार्गों पर वैज्ञानिक तरीके से गति सीमा के निर्धारण की कार्ययोजना पर तत्परता से काम करने को कहा। ( Road safety and Traffic rules awareness will be given to people )

ड्रोन, हाईटेक मोटर बाइक को मंजूरी

ट्रैफिक व्यवस्था आधुनिक बनाने के लिए मुख्य सचिव ने कई प्रस्तावों को मंजूरी दी। सभी जिलों में ड्रोन सेवाओं की व्यवस्था, ट्रैफिक सिग्नल को एएनपीआर तथा आरएलवीडी सिस्टम से जोड़ने के साथ हाईटेक राडार एवं डिजिटल स्पीड साइन बोर्ड और डिस्प्ले बोर्ड लगाने के प्रस्ताव इसमें शामिल है। साथ ही, ट्रैफिक पुलिस कर्मियों के लिए बॉडी वॉर्न कैमरा, एल्कोमीटर, ब्रीथ एनालाइजर, पोर्टेबल साउंड सिस्टम जैसे आधुनिक सिस्टम को लागू करने की वित्तीय एवं सैद्धान्तिक स्वीकृति भी दी गई। लोनिवि को वित्त वर्ष 2024-25 में सुरक्षात्मक कार्यों के तहत क्रश बैरियर का निर्माण, रोड डेलीनेटर और कैट आई, ब्लैक स्पॉट पर सुधारात्मक कार्य, पैराफिट और रोड मार्किंग को भी मंजूर किया गया।

To Top