Ad
Champawat News

मां पूर्णागिरी धाम यात्रा पर 19 सितंबर तक रोक, 12 रूट भी हुए बंद

File Photo
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

टनकपुर: मॉनसून सीजन के अंतिम चरण में पूरे उत्तराखंड मे बारिश हो रही है। कुमाऊं के तो लगभग सभी जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश का अलर्ट जारी किया जा चुका है। इधर, पहाड़ मार्ग भी बारिश के सीजन में मलबा गिरने के कारण अवरुद्ध हो जाते हैं। अब इसी के मद्देनजर मां पूर्णागिरी धाम की यात्रा पर आगामी 19 सितंबर तक रोक लगा दी गई है।

टनकपुर के एसडीएम हिमांशु कफल्टिया ने कहा कि अब श्रद्धालु 19 सितंबर के बाद ही मां पूर्णागिरि के दर्शन कर सकेंगे। बता दें कि वर्तमान समय में चंपावत जिले के धौन-बड़ोली, डूगरबोरा-कायल-मटियानी, बगौटी-डूंगरालेटी, बलूटा-पासम, बांकू-सुल्ला पासम, स्याला-पोथ, धौन-सल्ली, अमोड़ी-छतकोट, चल्थी-नौलापानी, रौसाल-डूगरबोरा, बाराकोट-कोठेरा और बाराकोट-मिर्तोली मार्ग बंद हैं।

यह भी पढ़ें 👉  अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले में SIT को बाइक और स्कूटी मिली, इन लोगों को पूछताछ के लिए बुलाया गया

मां पूर्णागिरी धाम को लेकर अपडेट यह आया है कि फिलहाल बारिश के कारण यात्रा करना रिस्क का काम है। वैसे भी धाम में देवी दर्शन करने के लिए पांच स्थानों पर नाले और रोखड़ होने से जल स्तर बढ़ने पर खतरा रहता है। मां पूर्णागिरि मंदिर समिति के अध्यक्ष पंडित किशन तिवारी का कहना है कि प्रशासन का निर्णय सही है और इसका पालन किया जाएगा।

Join-WhatsApp-Group
To Top