Dehradun News

पहाड़ी में बात करें उत्तराखंड के युवा डॉक्टर्स,MBBS के छात्रों को सिखाई जाएगी पहाड़ी भाषा


देहरादून:स्थानीय भाषा को लुप्त होने से रोकने और युवाओं में उसके प्रचार-प्रसार पर सरकार काफी जोर दे रही है। वहीं शिक्षा संस्थानों ने भी इस दिशा की ओर कदम बढ़ाया है। इसी क्रम में देहरादून स्थित श्री गुरुराम राय विश्वविद्यालय में एमबीबीएस के छात्रों को गढ़वाली भाषा सिखाई जाएगी। फाउंडेशन कोर्स के तहत उन्हें शिक्षा दी जाएगी। स सत्र से एमबीबीएस कोर्स के प्रथम सेमेस्टर में यह व्यवस्था लागू की गई है और मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया के मानकों को फॉलो किया जा रहा है।

वहीं स्थानीय भाषा सिखने के लिए विद्यार्थी भी खासा उत्साहित हैं। बता दें कि कुलाधिपति श्री महंत देवेंद्रदास महाराज के प्रयास की बदौलत इसी सत्र से बीए व एमए स्तर पर गढ़वाली बोली के डिग्री पाठ्यक्रम शुरू होने जा रहे हैं। कुलपति प्रो. (डॉ.) यूएस रावत का कहना है कि हमारी कोशिश है कि एसजीआरआर विवि गढ़वाली भाषा के सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के रूप में उभर सके।

एमबीबीएस कोर्स में स्थानीय भाषा की पढ़ाई को अनिवार्य कर दिया गया है और इससे गढ़वाली भाषा में करियर की संभावना पहले से अधिक हो जाएगी। प्रधानाचार्य प्रो. (डॉ.) अनिल मेहता ने कहा कि मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया के निर्देशों के अनुसार छात्रों को उत्तराखंड की गढ़वाली भाषा सिखाई जा रही है। जहां से निकले बच्चे जब पर्वतीय क्षेत्रों में ड्यूटी करेंगे तो उन्हें क्षेत्रीय लोगों से संवाद करने में आसानी होगी।

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी व्यापारी से लूट का वीडियो आया सामने,CCTV फुटेज में तमंचे लहराते नज़र आए तीन लुटेरे

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी:मार्बल की दुकान में हुई लूट,फिल्मी अंदाज में बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी में महिला का आरोप,पति व सौतन उसकी फोटो एडिट करके अश्लील बना रहे हैं

यह भी पढ़ें: ATM से 9 लाख रुपए कटने के बाद हुए रिकवर,नैनीताल पुलिस ने कुछ इस तरह दिखाया ठग को ठेंगा

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top